Digital Marketing Kya Hai? डिजिटल मार्केटिंग की सम्पूर्ण जानकारी जानिए Best Guide 2023

Spread the love

Digital Marketing Kya Hai: – आ गए सारे नए ब्लॉगर? डिजिटल मार्केटिंग क्या है? जैसा कि आप सब लोग जानते है कि आजकल इंटरनेट के इस युग में लगभग हर चीज ऑनलाइन है Online shopping, Ticket booking, Recharges, Bill payments, Online Transactions आदि

सभी काम इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन हो जाते है ऐसे में हर कंपनी या बिज़नेस के लिए Digital Marketing बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाती है क्योकि आज लगभग 80% 80% shoppers हर प्रोडक्ट को खरीदने से पहले उसको ऑनलाइन रिसर्च कर लेते है

Digital Marketing Kya Hai? डिजिटल मार्केटिंग की सम्पूर्ण जानकारी जानिए Best Guide 2023

Digital Marketing के प्रोसेस में इंटरनेट पर किसी भी प्रोडक्ट की मार्केटिंग है चलिए अब हम Digital Marketing Kya Haiके बारे में जान लेते है

Digital Marketing Kya Hai? | डिजिटल मार्केटिंग क्या है हिंदी में

Table of Contents

Digital Marketing” जब आप अपने किसी भी प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं की डिजिटल साधनो के माध्यम से मार्केटिंग करते है आपके द्वारा किया गया यह पूरा प्रोसेस डिजिटल मार्केटिंग कहलाता है इस पुरे प्रोसेस में आप इंटरनेट उपयोग जरूर करते है

देश में Digital Marketing का उपयोग वर्ष 1990 में शुरू किया गया था क्योकि डिजिटल मार्केटिंग के माध्यम से नए कस्टमर से साथ आसानी से जुड़ा जा सकता है इसीलिए यह काम को जल्द करती है

Digital Marketing Kya Hai? डिजिटल मार्केटिंग की सम्पूर्ण जानकारी जानिए Best Guide 2023

पहले के समय में लोग बिना इंटरनेट का उपयोग करे अपने प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं के लिए कस्टमर को ढूंढते थे जिसमे वह पोस्टर,टेम्प्लेट, विज्ञापन, अखबारों द्वारा अपने प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं की मार्केटिंग करके लोगो तक उस इनफार्मेशन को पहुंचाते थे

जिसके परिणाम में कम कस्टमर और अधिक पैसे इन्वेस्ट होते थे इसके साथ इसमें आपका बहुत अधिक समय लग जाता था लेकिन Digital Marketing से आपको कम समय और इन्वेस्टमेंट से आपको अच्छे रिजल्ट मिल जाते है

Digital Marketing Ke Labh Kya Hote Hai? | डिजिटल मार्केटिंग के लाभ क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग के लाभ निम्नलिखित होते है जैसे –

  • डिजिटल मार्केटिंग में कम पैसे से काम शुरू किया जा सकता है
  • Digital Marketing करना बहुत आसान होता है इसमें आप जब चाहे अपने कैंपेन ( ऑफर ) में आसानी से बदलाव कर सकते है
  • अपनी SEO की टीम के सही प्रकार से काम करने को देख सकते है और यह काम घर बैठकर ( फ्रीलांसर के रूप में ) ही किया जाता है
  • डिजिटल मार्केटिंग के माध्यम से बिज़नेस या ब्लॉग का प्रचार प्रमोट आसानी से किया जा सकता है जिसके बाद आप अपने कस्टमर के साथ जल्द से जल्द जुड़ सकते है क्योकि डिजिटल मार्केटिंग का कन्वर्शन रेट हाई होता है
  • इस फील्ड में आपको कई प्रकार की जॉब मिल जाती है
  • इसमें आप अपने बिज़नेस या ब्लॉग के प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं को आसानी से उन लोगो तक पंहुचा सकते है जिनको उसकी जरुरत है

डिजिटल मार्केटिंग क्यों जरुरी है?

“डिजिटल मार्केटिंग” आज का समय इंटरनेट का समय है और इस इंटरनेट के समय में Digital Marketing का कार्य करना हर मनुष्य के लिए संभव है क्योकि इसमें इंटरनेट का उपयोग करके किसी बिज़नेस, प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं की डिजिटल मार्केटिंग करने में किया जाता है

ऐसे में आजकल दुनिया का हर व्यक्ति इंटरनेट से जुड़ा हुआ है इसीलिए Digital Marketing करने का महत्व और अधिक हो जाता है इसमें आप कम समय और इन्वेस्टमेंट में अपने बिज़नेस, प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं को लोगो तक आसानी से पहुंचा सकते है

Digital Marketing Kya Hai? डिजिटल मार्केटिंग की सम्पूर्ण जानकारी जानिए Best Guide 2023

जिससे हर व्यापार को आगे बढ़ाने में डिजिटल मार्केटिंग की भूमिका बढ़ जाती है क्योकि Digital Marketing के आने से पहले लोग अपने बिज़नेस या व्यापार को बढ़ाने के लिए पोस्टर,टेम्प्लेट, विज्ञापन, अखबारों द्वारा अपने प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं की मार्केटिंग करनी पड़ती थी

लेकिन आज लोग गूगल, फेसबुक , यूट्यूब आदि का उपयोग करना अधिक पसंद करते है जोकि व्यापार को आगे बढ़ाने के लिए भी यह काम में लाए जाते है क्योकि जिन व्यापार में खुद का प्रोडक्ट बनाया जाता है

उसके लिए Digital Marketing के माध्यम से तीसरे व्यक्ति ( कस्टमर ) तक उसको आसानी से पंहुचाया जा सकता है

Digital Marketing Kitne Prakar Ki Hoti Hai? | डिजिटल मार्केटिंग कितने प्रकार की होती है?

डिजिटल मार्केटिंग को करने के लिए इंटरनेट का उपयोग किया जाना बहुत जरुरी होता है जिसको आप कुछ प्रकार के रूप में बात सकते है –

  1. SEO ( सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन )
  2. Email Marketing ( ईमेल मार्केटिंग )
  3. Social Media ( सोशल मीडिया )
  4. YouTube Channel ( यूट्यूब चैनल )
  5. Affiliate Marketing ( एफिलिएट मार्केटिंग )
  6. Apps Marketing ( ऐप्स मार्केटिंग )
  7. PPC Marketing ( पे पर क्लिक मार्केटिंग )

SEO ( सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन )

SEO को आप Digital Marketing के प्रकार के रूप में देख सकते है क्योकि इसके माध्यम से आप अपने ब्लॉग या बिज़नेस वेबसाइट को सबसे ऊपर लाने में मदत करता है जिसके बाद आपके ब्लॉग के विजिटर की संख्या बढ़ती है लेकिन आपको SEO Guidelines के अनुसार चलना होता है

Email Marketing ( ईमेल मार्केटिंग )

ईमेल मार्केटिंग भी Digital Marketing का ही प्रकार है क्योकि इसमें आप ईमेल के माध्यम से अपने बिज़नेस, प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं की मार्केटिंग की जाती है आप अपने

Social Media ( सोशल मीडिया )

जब आप अपने बिज़नेस, प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं की मार्केटिंग सोशल मीडिया के माध्यम से करते है तो यह भी Digital Marketing में आता है क्योकि इसमें आप इंटरनेट का उपयोग करके मार्केटिंग करते है

YouTube Channel ( यूट्यूब चैनल )

YouTube चैनल के माध्यम से जब आप किसी बिज़नेस, प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं की मार्केटिंग करते है तब उसमें इंटरनेट का उपयोग करके मार्केटिंग होने के कारण हम Digital Marketing के रूप में देखते है

ऐसा करके आप लोगो तक अपने बिज़नेस को पहुंचने में सक्षम होते है जिसके बाद आपके बिज़नेस में बढ़ोतरी देखने को मिलती है लेकिन इसमें आपको वीडियो कंटेंट की जरुरत पड़ती है क्योकि यूट्यूब एक वीडियो पब्लिशिंग प्लेटफार्म है

Affiliate Marketing ( एफिलिएट मार्केटिंग )

इसमें आप किसी बिज़नेस, प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं की मार्केटिंग को किसी ब्लॉग या वेबसाइट के माध्यम से करके अपने प्रोडक्ट को प्रमोट करते है क्योकि इसमें आप इंटरनेट का उपयोग मार्केटिंग कर रहे है तो यह भी Digital Marketing की श्रेणी में आता है

Apps Marketing ( ऐप्स मार्केटिंग )

जब आप किसी ऐप के माध्यम से किसी बिज़नेस, प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं की मार्केटिंग करते है तो उसको हम ऐप्स मार्केटिंग कहते है ऐसे में इसको करने में भी हम इंटरनेट का उपयोग करते है तो हम इसको भी Digital Marketing के रूप में गिनते है

PPC Marketing ( पे पर क्लिक मार्केटिंग )

जब किसी एड्स या विज्ञापन को देखने के लिए हमे पैसे देने पड़ते है उसको हम पे पर क्लिक मार्केटिंग कहते है इसको भी हम Digital Marketing के रूप में देखते है

डिजिटल मार्केटिंग का सिलेबस क्या होता है?

डिजिटल मार्केटिंग के सिलेबस में अलग अलग इंस्टिट्यूट के अनुसार अलग अलग होते है लेकिन कुछ मुख्य विषयो के बारे में आपको नीचे बताया गया है 

  • Introduction to Digital Marketing ( इंट्रोडक्शन टू डिजिटल मार्केटिंग )
  • email marketing ( ईमेल मार्केटिंग )
  • Product Marketing (Facebook, Instagram, Google Ads) ( प्रोडक्ट मार्केटिंग (फेसबुक, इंस्टाग्राम, गूगल ऐड्स) )
  • market research ( मार्केट रिसर्च )
  • SEO optimization ( SEO ऑप्टिमाइजेशन )
  • mobile marketing ( मोबाइल मार्केटिंग )
  • Introduction to CRM ( इंट्रोडक्शन टू CRM )
  • Content Creation, Management & Promotion ( कंटेंट क्रिएशन, मैनेजमेंट & प्रोमोशन )
  • Introduction to Web Analytics ( इंट्रोडक्शन टू वेब एनालिटिक्स )
  • social media marketing ( सोशल मीडिया मार्केटिंग ) 
  • affiliate marketing ( एफिलिएट मार्केटिंग )
  • website data analytics ( वेबसाइट डाटा एनालिटिक्स )
  • Paid Ads Optimization Strategies ( पेड ऐड्स ऑप्टिमाइजेशन स्ट्रेटजीज़ )
  • Competitor and Website Analysis ( कॉम्पिटिटर एंड वेबसाइट एनालिसिस )
  • neuromarketing fundamentals ( न्यूरोमार्केटिंग फंडामेंटल्स )
  • Digital Marketing Budgeting, Planning & Forecast ( डिजिटल मार्केटिंग बजटिंग, प्लानिंग & फोरकास्ट )
  • digital marketing project management ( डिजिटल मार्केटिंग प्रोजेक्ट मैनेजमेंट )

डिजिटल मार्केटिंग के लिए लोकप्रिय कोर्स कौन कौन से है?

डिजिटल मार्केटिंग के लिए लोकप्रिय कोर्स निम्नलिखित है जैसे –

  1. CDMM ( सीडीएमएम )
  2. Product Marketing ( प्रोडक्ट मार्केटिंग )
  3. SMM ( एस एम एम )
  4. affiliate marketing ( एफिलिएट मार्केटिंग ) 
  5. Growth Hacking ( विकास हैकिंग ) 
  6. Inbound Marketing ( इनबाउंड मार्केटिंग )
  7. Web Analytical ( वेब विश्लेषणात्मक )
  8. SEO ( एसईओ )
  9. E-mail Marketing ( ईमेल मार्केटिंग )
  10. Mobile Marketing ( मोबाइल मार्केटिंग )

Note – आप AI Course Finder के माध्यम से डिजिटल मार्केटिंग के लिए बेस्ट कोर्स और यूनिवर्सिटी के बारे में पता लगा सकते है 

डिजिटल मार्केटिंग सीखने के लिए विदेशी यूनिवर्सिटीज कौन-कौन सी है?

डिजिटल मार्केटिंग के लिए विदेशी यूनिवर्सिटी निम्नलिखित है जैसे – 

  1. University of British Columbia ( ब्रिटिश कोलंबिया विश्वविद्यालय )
  2. Ryerson University ( रायर्सन विश्वविद्यालय )
  3. Simon Fraser University( साइमन फ्रेजर विश्वविद्यालय )
  4. McMaster University ( मैकमास्टर विश्वविद्यालय )
  5. University of Alberta ( अल्बर्टा विश्वविद्यालय )
  6. Laval University ( लवल विश्वविद्यालय ) 
  7. Ontario Tech University ( ओंटारियो टेक यूनिवर्सिटी )
  8. York University ( यॉर्क विश्वविद्यालय )
  9. University of Waterloo ( वाटरलू विश्वविद्यालय )

भारत में डिजिटल मार्केटिंग के लिए कौन कौन से संस्थान है

भारत में Digital Marketing के संस्थान निम्नलिखित है जैसे –

  • सिम्पलीलर्न, बैंगलोर ( Simplilearn, Bangalore )
  • नई दिल्ली वाईएमसीए, दिल्ली ( New Delhi YMCA, Delhi )
  • इंटरनेट मार्केटिंग स्कूल, कोलकाता ( Internet Marketing School, Kolkata ) 
  • डिजिटल विद्या, पूरे भारत में शाखाएं ( Digital Vidya, Branches all over India ) 
  • AIMA- अखिल भारतीय प्रबंधन संघ, दिल्ली ( AIMA- All India Management Association, Delhi ) 
  • लर्निंग कैटलिस्ट, मुंबई ( Learning Catalyst, Mumbai )
  • DSIM- दिल्ली स्कूल ऑफ इंटरनेट मार्केटिंग, दिल्ली और बैंगलोर ( DSIM- Delhi School of Internet Marketing, Delhi and Bangalore )
  • Zica, इंदौर ( Zica, Indore )
  • डिजिटल मार्केटिंग संस्थान-आईडीएम, मुंबई। ( Institute of Digital Marketing- IDM, Mumbai )

डिजिटल मार्केटिंग के लिए क्या योग्यताए चाहिए?

  • बैचलर्स कोर्सेस में प्रवेश लेने के लिए उम्मीदवार का किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं पूरा करना जरुरी होता है
  • कुछ कॉलेज ऐसे होते है जिनमे प्रवेश लेने के लिए परीक्षा आयोजित की जाती है अगर आप Out Of India के लिए प्रवेश परीक्षा देंगे तब आपको बैचलर्स के लिए SAT या ACTस्कोर्स की जरुरत पड़ती है
  • मास्टर्स कोर्सेस के लिए किसी किसी विश्वविद्यालय में प्रवेश लेने के लिए उम्मीदवार का किसी स्ट्रीम में बैचलर्स डिग्री प्राप्त होना जरुरी है
  • मास्टर्स कोर्सेस में एडमिशन लेने के लिए किसी किसी विश्वविद्यालय में प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाती है अगर आप Out Of India के लिए प्रवेश परीक्षा देंगे तब आपको किसी किसी विश्वविद्यालय में GRE स्कोर की जरुरत होती है
  • Out Of India के लिए आपको IELTS या TOEFL स्कोर की जरुरत भी पड़ सकती है

डिजिटल मार्केटिंग के लिए भारत में आवेदन प्रक्रिया क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग के लिए आवेदन की प्रक्रिया को नीचे बताया गया है 

  • अगर आप डिजिटल मार्केटिंग के लिए आवेदन प्रक्रिया करने वाले कैंडिडेट है तब आपको 12th क्लास तक बसिक एजुकेशन उत्तीर्ण करनी जरुरी है।
  • जिसके बाद इसके लिए आपको अपनी प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन करना होता है यह परीक्षा ऑनलाइन या ऑफलाइन मोड के माध्यम से की जा सकती है
  • इसके बाद आपकी प्रवेश परीक्षा के अंको के अनुसार अभी कैंडिडेट की लिस्ट को शॉर्टलिस्ट किया जाता है जिसको आप मेरिट लिस्ट कहते है
  • कुछ कॉलेज के अंदर ग्रुप डिस्कशन (GD) और पर्सनल इंटरव्यू के माध्यम से एडमिशन होता है

डिजिटल मार्केटिंग के लिए यूके में आवेदन प्रक्रिया क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग के लिए यूके के लिए आपको बैचलर्स डिग्री में एडमिशन के लिए UCAS पोर्टल पे विजिट करके रजिस्ट्रेशन करना होता है जिसके बाद आपको वहां से आईडी और पासवर्ड प्राप्त होगा

लेकिन अगर आप मास्टर्स में एडमिशन लेना चाहते है तब आपको यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना होता है जिसके बाद आपको वहां से भी यूजर आईडी और पासवर्ड मिलता है

आवेदन प्रक्रिया के लिए आप नीचे बताए गए स्टेप्स को फॉलो कर सकते है 

  • सबसे पहले आपको यूजर आईडी से अपने अकाउंट साइन इन ( लॉग-इन ) करना है
  • इसके बाद आपको कोर्स या जरुरी योग्यता को चेक करके उस यूनिवर्सिटी के एप्लीकेशन फॉर्म पर क्लिक करके उसमे अपने ईमेल या फ़ोन नंबर के द्वारा न्यू रजिस्ट्रेशन करना है
  • आप आपको वेरफिकेशन कोड के जरिये वेरीफाई करके अपनी कुछ डिटेल्स जैसे – नाम, जेंडर, पिता का नाम, माता का नाम, जन्म की तिथि को भरना है जिसके बाद इसमें मागे जाने वाले जरुरी डॉक्युमेंट्स की फोटो को अपलोड करना है
  • इसके बाद आपको भुगतान प्रक्रिया करनी है जिसमे आप ऑनलाइन माध्यम से अपनी फीस को देते है जिसके बाद आप अपने फॉर्म या एप्लीकेशन को सबमिट कर सकते है

Note – कुछ यूनिवर्सिटीज में आपकी परीक्षा या इंटरव्यू सिलेक्शन के बाद भी हो सकता है 

डिजिटल मार्केटिंग के लिए जरुरी दस्तावेज ( डॉक्यूमेंट ) क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग के लिए कुछ जरुरी डॉक्युमेंट की लिस्ट नीचे दी गई है

  • एकेडमिक ट्रांसक्रिप्ट
  • पासपोर्ट की स्कैन की गई कॉपी
  • CV/ रिज़्यूमे
  • IELTS/ TOEFL/ GMAT/ GRE आदि के स्कोर।
  • SOP (स्टेटमेंट ऑफ पर्पस)
  • LOR (लेटर ऑफ रिकमेंडेशन)

डिजिटल मार्केटिंग के लिए करियर ऑप्शन क्या क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग में आपके लिए बहुत सारे करियर ऑप्शन है जैसे – कंटेंट मार्केटर, कॉपीराइटर, ई-कॉमर्स मैनेजर, SEO एग्जीक्यूटिव/मैनेजर, CRM & ईमेल मार्केटिंग मैनेजर, कन्वर्शन रेट ऑप्टिमाइजेशन,

PPC मैनेजर/एग्जीक्यूटिव, SEM मैनेजर/एक्सपर्ट, सोशल मीडिया मैनेजर/एग्जीक्यूटिव, वेब डिजाइनर, एनालिटिकल मैनेजर आदि

डिजिटल मार्केटिंग के लिए टॉप रेक़ुएरमेन्ट कंपनी कौन सी है?

आज Digital Marketing के लिए बेस्ट रेक़ुएरमेन्ट कंपनी बहुत अधिक है जिनमे से कुछ इस प्रकार है जैसे – Google, Facebook, iProspect India, WATConsult, Webchutney, Mirum India, Quasar Media, Pinstorm आदि

डिजिटल मार्केटिंग करने के बाद सैलेरी कितनी होती है?

डिजिटल मार्केटिंग करने से आपकी सैलेरी अलग अलग पोस्ट के अनुसार अलग अलग हो सकती है लेकिन उदहारण के लिए 

  • सोशल मीडिया मैनेजर – 5-6 लाख
  • डिजिटल मार्केटिंग मैनेजर – 6-7 लाख
  • पे पर क्लिक या SEM एनालिस्ट – 3-4 लाख
  • SEO स्पेशलिस्ट – 4-5 लाख
  • कंटेंट मार्केटिंग स्पेशलिस्ट – 4-5 लाख
  • कंटेंट राइटर – 3-4 लाख

डिजिटल मार्केटिंग के लिए बेस्ट बुक ( पुस्तक ) कौन कौन सी है?

वैसे तो आज मार्किट में Digital Marketing के लिए बहुत सारी बुक ( पुस्तक ) आपके लिए उप्लोब्ध है लेकिन नीचे मैंने कुछ महत्वपूर्ण बुक के नाम बताये है 

  • The Art of SEO by Eric Enge, Stephan Spencer, Jessie Stricchiola
  • डिजिटल मार्केटिंग से सीखो और कमाओ
  • Epic Content Marketing by Joe Pulizzi
  • Digital Marketing for Dummies by Ryan Deiss & Russ Henneberry 
  • Digital Marketing 2020 by Danny Star
  • New Rules of Marketing and PR by David Meerman Scott

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया की परीक्षा कौन कौन सी है

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया की परीक्षा निम्नलिखित होती है जिनके बारे में नीचे बतया गया है 

ग्रेजुएशन ( ग्रेजुएट लेवल ) के लिए प्रवेश परीक्षा

  • DU JAT
  • PESSAT
  • NPAT
  • B-MAT
  • DSAT

पोस्ट ग्रेजुएशन ( पोस्ट ग्रेजुएट लेवल ) के लिए प्रवेश परीक्षा

  • CAT
  • XAT
  • SNAP
  • MAT
  • CMAT

Digital Marketing Course Kaise Kare? | डिजिटल मार्केटिंग कोर्स कैसे करे?

क्योकि Digital Marketing के कोर्स को आप ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरह से कर सकते है ऑनलाइन के लिए गूगल पर आप फ्री में सर्टिफिकेट प्राप्त कर सकते है लेकिन ऑफलाइन के लिए आप अपने नजदीकी इंस्टिट्यूट पर जा सकते है

गूगल से ऑनलाइन आप दो वेबसाइट पर जा सकते है ( 1. Google Digital Unlocked, 2. Google Skill Shop )इन दोनों गूगल की वेबसाइट से आप  बैठकर Digital Marketing सिख सकते है इसके लिए आप नीचे बताए गए बातो का ध्यान रख सकते है 

  • दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल की यह दोनों वेबसाइट आपको फ्री में Digital Marketing के कोर्स को सीखा देती है
  • Google Digital Unlocked आपको Digital Marketing की सभी बुनयादी बाते सिखाती है जिसको आप वीडियो के रूप में देख और सुन भी सकते है और लेख या नोट्स के रूप में पढ़ सकते है
  • इसमें जब आप लॉगइन होते है तब आपके सामने Digital Marketing के कोर्स के 26 मॉड्यूल जोकि 40 घंटे के होते है लेकिन इसमें कोर्स को अनलॉक  करने के लिए गूगल अकाउंट से साइन-अप करना होता हैं
  • इसमें कोर्स को कम्पलीट करने के बाद आपको Digital Marketing का सर्टिफिकेट भी दिया जाता है

FAQ

डिजिटल मार्केटिंग से आप क्या समझते?

Digital Marketing” जब आप अपने किसी भी प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं की डिजिटल साधनो के माध्यम से मार्केटिंग करते है आपके द्वारा किया गया यह पूरा प्रोसेस डिजिटल मार्केटिंग कहलाता है इस पुरे प्रोसेस में आप इंटरनेट उपयोग जरूर करते है

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स की फीस कितनी है?

डिजिटल मार्केटिंग के लिए फीस अलग अलग कॉलेज के अनुसार अलग अलग हो सकती है लेकिन यह लगभग INR 10,000-60,000 हजार रुपए सालाना तक फीस लग सकती है

डिजिटल मार्केटिंग कितने प्रकार के होते हैं?

डिजिटल मार्केटिंग कई प्रकार के होते है जैसे – SEO ( सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन ), Email Marketing ( ईमेल मार्केटिंग ), Social Media ( सोशल मीडिया ), YouTube Channel ( यूट्यूब चैनल ),

Affiliate Marketing ( एफिलिएट मार्केटिंग ), Apps Marketing ( ऐप्स मार्केटिंग ), PPC Marketing ( पे पर क्लिक मार्केटिंग ) आदि।

डिजिटल मार्केटिंग क्यों जरूरी है?

“डिजिटल मार्केटिंग” आज का समय इंटरनेट का समय है और इस इंटरनेट के समय में डिजिटल मार्केटिंग का कार्य करना हर मनुष्य के लिए संभव है क्योकि इसमें इंटरनेट का उपयोग करके किसी बिज़नेस, प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं की डिजिटल मार्केटिंग करने में किया जाता है

ऐसे में आजकल दुनिया का हर व्यक्ति इंटरनेट से जुड़ा हुआ है इसीलिए डिजिटल मार्केटिंग करने का महत्व और अधिक हो जाता है इसमें आप कम समय और इन्वेस्टमेंट में अपने बिज़नेस, प्रोडक्ट, सर्विस और सेवाओं को लोगो तक आसानी से पहुंचा सकते है

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स कितने महीने का होता है?

डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स में आपके लिए BBA 3-4 साल, डिजिटल मार्केटिंग के लिए पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स 2 साल, और सर्टिफिकेट कोर्स 3 से 6 महीने का होता है आप अपने अनुसार यह तय कर सकते है कि आपको डिजिटल मार्केटिंग के लिए कौन सा कोर्स करना है


Spread the love

2 thoughts on “Digital Marketing Kya Hai? डिजिटल मार्केटिंग की सम्पूर्ण जानकारी जानिए Best Guide 2023”

Leave a Comment