Domain Name Kya Hai ? Best Complete Guide in Hindi 2022

Spread the love

Domain Name Kya Hai:-  आज हम Domain Name Kya Hota Hai, डोमेन नाम कैसे काम करता है, डोमेन नाम कैसे बनाएं और डोमेन कहाँ से खरीदें? आदि के बारे में बात करेंगे –

आ गए सभी नए ब्लॉगर? जब भी आप किसी वेबसाइट या ब्लॉग को बनाने के बारे में सोचते है सबसे पहला कदम Domain Name का होता है Domain Name Kya Hai? और डोमेन नेम कैसे खरीदते हैं?

अगर आप अपने ब्लॉग्गिंग करियर को स्टार्ट कर रहे है तब आपको सबसे पहले यह Domain Name वाला आर्टिकल पढना चाहिए इसके साथ ही मैं NS Article पर ब्लॉग्गिंग करियर को स्टार्ट करने जा रहा हु

Domain Name का इतिहास

Table of Contents

“Domain Name” वर्ष 1983 में वैज्ञानिक Paul Mockapetris ने Domain Name को चालू किया इससे पहले के समय में लोग अलग अलग वेबसाइट को अलग अलग IP Address ( Example – 192.158.1.38 ) के जरिये जानते थे

ऐसे में लोगो को वेबसाइट याद करने में बहुत ज्यादा दिक्कत होती थी क्योकि वेबसाइट की संख्या धीरे-धीरे बढ़ने लगी थी “Domain Name System” के आने के बाद वेबसाइट को याद रखना आसान हो गया

इन्टरनेट के बढ़ते हुए युग में आज डोमेन के खरिदे जाने की संख्या 366 million हो चुकी है

Domain Name Kya Hai ? Best Complete Guide in Hindi 2022

Domain Name Kya Hai? (What is Domain Name in Hindi)

“Domain Name” आपकी वेबसाइट या ब्लॉग का वेब पता होता है जिससे इंटरनेट पर यूजर आपको सर्च करते है और “डोमेन नाम” को ICANN “इंटरनेट कॉर्पोरेशन फॉर असाइन्ड नेम्स एंड नंबर्स” द्वारा मान्यता प्राप्त  डोमेन नाम रजिस्ट्रार द्वारा दिया जाता है वर्ष 1985 में शुक्रवार 15 मार्च को सबसे पहले डोमेन बनाया गया जो की Symbols.com था

आसान भाषा में Domain Name आपकी वेबसाइट की लोगो के और इन्टरनेट के बीच एक पहेचान के रूप में काम करता है इसकी मदत से लोग आपकी वेबसाइट या ब्लॉग को इन्टरनेट पर ढूंड सकते है

( Domain Name + Web Hosting ) इसकी मदत से हर वेबसाइट को रेडी किया जाता है जो काम पहले IP Address करता था वही काम आज एक डोमेन कर लेता है जैसे Example.com एक डोमेन नाम है इसी तरह Facebook.com , Google.com एक डोमेन नाम है

अगर एक डोमेन नाम को कोई खरीद लेता है तब उस डोमेन को ओर कोई नहीं खरीद सकता है हर डोमेन अलग अलग इसीलिए होता है जिससे अलग अलग वेबसाइट का पता लगाया जा सके इसके साथ ही ख़रीदे हुए डोमेन को हर वर्ष Renew करना होता है अगर आप ऐसा नहीं करते है तब आपका वो डोमेन कोई और भी ले सकता है

डोमेन के प्रकार ( Type of Domain in Hindi )

वैसे तो डोमेन कई प्रकार के होते है जिनमे हम कुछ के बारे में बात करेंगे –

Root Domain

“Root Domain” वेबसाइट Address के ( Domain Name System ) DNS के Highest Level Domain ( HLD ) को कहा जाता है Google इसको बहुत महत्व देता है इसके साथ ही यह वेबसाइट को रैंक करने में लाभदायक साबित होता है

Root Domain Kya Hai ? Best Complete Guide in Hindi 2022

वेबसाइट का रुट डोमेन वेबसाइट के होमपेज को देखता है आप इसको Root Level Domain ( RLD ) या Zero Level Domain भी कह सकते है क्योंकि यह Top Level Domain ( TLD ) से पहले आता है

Top Level Domain

Top Level Domain Kya Hai – “Top Level Domain” विश्व स्तर Domain होते है इन्हे सबसे ऊँचे स्तर के डोमेन कहा जाता है इनही डोमेन को Root Level Domain के बाद सबसे Highest Level Domain माना जाता है लेकिन यह डोमेन किसी एक विशेष देश से संबद्ध नहीं होते हैं

Third Level Domain Kya hai ? Best Complete Guide in Hindi 2022

TLD को सर्च इंजन में रैंकिंग के लिए अच्छा डोमेन माना जाता है और इनको ( . ) के बाद लिखा जाता है जैसे – nsarticle.com में com एक Top Level Domain है सभी सर्च इंजन इन डोमेन्स को ज्यादा अच्छा मानते है

Read More: Top Level Domain

Country Code TLD

“Country Code Top Level Domain” इन डोमेन को Country के हिसाब से Reserve किया गया यह दो अक्षरों में होता है जैसे India के लिए .In लेकिन यहाँ भी Country के लिए डोमेन चुनने का काम ICANN ने ही किया

Second Level Domain

Second Level Domain Kya Hai: – “Second Level Domain” डोमेन का यह लेवल टॉप लेवल के बाद में आने वाला लेवल होता है लेकिन डोमेन नाम लिखते समय यह टॉप लेवल डोमेन से पहले लिखा जाता है जैसे – nsarticle.com में nsarticle एक सेकंड लेवल डोमेन है और .Com एक टॉप लेवल डोमेन है

Second Level Domain Kya Hai ? Best Complete Guide in Hindi 2022


Spread the love