Hindi Vs Hinglish Vs English Blogging In Hindi? Best Guide 2023

Spread the love

Hindi Vs Hinglish Vs English Blogging In Hindi: – आ गए सारे नए ब्लॉगर? Hindi Vs Hinglish Vs English Blogging? आज के समय सभी लोग ब्लॉग्गिंग से पैसे कामना चाहते है

लेकिन नए ब्लॉगर यह बात कंफ्यूज कर देती है कि अपना ब्लॉग किस भाषा में शुरू करें मतलब Hindi Vs Hinglish Vs English Blogging? क्या करे?

नए ब्लॉगर अपने Blogging Career में एक सफल ब्लॉगर बनना चाहते है ऐसे में उनके मन में ब्लॉग्गिंग के लिए यह सवाल उठना एक तरह से सही है क्योकि आज के समय में आप हर तरह की भाषा में ब्लॉग को देखते है

Hindi Vs Hinglish Vs English Blogging In Hindi? Best Guide 2023

Hindi Vs Hinglish Vs English Blogging में सभी ब्लॉग की भाषा अलग अलग होती है ऐसे में क्या ब्लॉग्गिंग हिंदी भाषा में करनी चाहिए? यह आपके मन का सवाल बनता है ब्लॉग को सही भाषा में बनाना जरुरी होता है

इसमें आपको यह पता लगाना है कि Hindi Vs Hinglish Vs English Blogging में से यूजर और सर्च इंजन गूगल को कौन सी लैंग्वेज ज्यादा पसंद है यह सपोर्ट करता है इसीलिए आज मैं Hindi Vs Hinglish Vs English Blogging के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दूंगा

आप Hindi और English भाषा के बारे में तो जानते होंगे मैं नितिन सोनी से प्यार करती हु यह एक हिंदी भाषा वाक्य है लेकिन I Love Nitin Soni यह एक इंग्लिश भाषा वाक्य है चलिए अब हम Hinglish Kya Hai के बारे में जान लेते है

क्योकि इसके बाद हम आगे Hindi Vs Hinglish Vs English Blogging In Hindi के बारे में बात करेंगे –

Hinglish Kya Hai in Hindi? | हिंगलिश क्या है हिंदी में 

Table of Contents

“हिंगलिश” जब आप हिंदी भाषा को लिखते समय English के अक्षरों का उपयोग करके हिंदी भाषा को लिखते है उसे हम Hinglish ( हिंगलिश ) भाषा कहते है यह एक तरह से Hindi भाषा और English अक्षरों का मिश्रण होता है

उदहारण के लिए, Hinglish Kya Hai या Hinglish Kaise Likhe 

जिस ब्लॉग में हिंदी भाषा को लिखते समय English के अक्षरों का उपयोग करके ब्लॉग पोस्ट या लेख को लिखा जाता है उस ब्लॉग को Hinglish ब्लॉग कहा जाता है

उदहारण के लिए, हम हिंदी में हिंगलिश क्या है? सम्पूर्ण जानकारी लिखते है जबकि इसको हम हिंगलिश में Hinglish Kya Hai Sampurn Jaankari ऐसे लिखते है 

Hindi Vs Hinglish Vs English Blogging In Hindi? | Blogging Kis Bhasha Me Kare? 

क्या आपने कभी सोचा है कि हमे किस भाषा में ब्लॉग्गिंग करनी चाहिए क्योकि Blogging शुरू करने के लिए आपके पास एक अच्छा Blogging Niche और ब्लॉग्गिंग भाषा होनी जरुरी है तभी आप एक Successful Blogger बन सकते है

Hindi Vs Hinglish Vs English Blogging In Hindi? Best Guide 2023

इसलिए Blogging करना Hindi Vs Hinglish Vs English किस में सवश्रेष्ठ है इसके लिए आपको क्या ब्लॉग्गिंग हिंदी भाषा में करनी चाहिए?, क्या ब्लॉग्गिंग हिंगलिश भाषा में करनी चाहिए?, क्या ब्लॉग्गिंग इंग्लिश भाषा में करनी चाहिए? के बारे में समझना होगा

क्या ब्लॉग्गिंग हिंदी भाषा में करनी चाहिए? | Kya Blogging Hindi Bhasha Me Karni Chahiye?

आज के समय में भारत में Hindi Bloggers की संख्या रोजाना बढ़ रही है ऐसे में रोज इंटरनेट पर Hindi Blog को भारत ( इंडिया ) में लाइव किया जा रहा है इसका एक सबसे बड़ा रीज़न ( कारण ) यह है कि वर्ष 2013 से सर्च इंजन गूगल पर हिंदी विजिटर की संख्या लगातार बढ़ रही है 

एक सर्वे के अनुसार पता चला है कि आज पूरी दुनिया में 150 करोड़ लोगो को Hindi भाषा का ज्ञान है ऐसे में Hindi भाषा में Blogging करना बिल्कुल सही होता है लेकिन आज के समय में Hindi Blog को सर्च इंजन गूगल में भी रैंक करना कोई आसान काम नहीं है

क्योकि जैसे हिंदी ब्लॉग की संख्या बढ़ रही है वैसे ही Hindi Blogging में कम्पटीशन भी बढ़ रहा है लेकिन अगर आपको केवल हिंदी भाषा का ज्ञान है तब आपको अपने लिए एक हिंदी ब्लॉग बनाकर Hindi Blogging ही करनी चाहिए क्योकि ऐसे में आप हिंदी लेख या ब्लॉग पोस्ट लिख सकते है

क्या ब्लॉग्गिंग हिंगलिश भाषा में करनी चाहिए? | Kya Blogging Hinglish Bhasha Me Karni Chahiye?

हाँ, यह भी Hindi Blogging करने का एक सही तरीका है क्योकि आप Hindi Blog की तुलना में Hinglish Blog सर्च इंजन गूगल में जल्दी रैंक करा सकते है अगर आप हिंदी लैंग्वेज को पसंद करने वाले लोगों की बात करे तो यह संख्या बहुत अधिक है

क्योकि केवल भारत में ही 120 करोड़ लोग है जोकि हिंदी भाषा को समझते और बोलते है इसलिए Hindi Blogging लोगो को ज्यादा समझ आती है लेकिन Hinglish लैंग्वेज को कुछ लोग सही प्रकार से पढ़ और समझ नहीं पाते है

लेकिन सर्च इंजन Hindi Vs Hinglish में हिंगलिश भाषा को जल्द समझ पाता है क्योकि यह ( Kya Kise Kahte Hai ) के जैसी होती है जिसमे Keywords को सर्च इंजन द्वारा जल्दी समझा जाता है आप दोनों में से किसी भी लैंग्वेज पर अपना ब्लॉग शुरू कर सकते है

क्या ब्लॉग्गिंग इंग्लिश भाषा में करनी चाहिए? | Kya Blogging English Bhasha Me Karni Chahiye?

जैसा कि आप सब लोग जानते है कि English एक इंटरनेशनल लैंग्वेज ( भाषा ) है ऐसे में आपको एक Hindi Blogging की तुलना में English Blogging ज्यादा फायदेमंद होती है क्योकि इसमें आपको High कॉम्पीटिशन और High CPC मिलता है

लेकिन अगर आपको हिंदी लैंग्वेज ही आती है तब आप इंग्लिश ब्लॉग बनाकर English Blogging करने की गलती बिल्कुल नहीं करनी है अन्यथा आपका समय और मेहनत दोनों बर्बाद हो जाती है

Hindi Vs Hinglish Vs English Blogging In Hindi? Best Guide 2023

अगर आप केवल अच्छी कमाई करने के लिए इंग्लिश ब्लॉग्गिंग करना चाहते है तब आपको यह नहीं करना चाहिए क्योकि इसमें आपको हर ब्लॉग Niche में हाई कम्पटीशन देखने को मिलता है

Hindi Me Blogging Karne Ke Fayde Kya Hai? | हिंदी में ब्लॉग्गिंग करने के फायदे क्या है?

हिंदी भाषा में ब्लॉग्गिंग करने के फायदे निम्नलिखत होते है 

  • हिंदी भाषा ब्लॉग को इंग्लिश भाषा ब्लॉग की तुलना में कम कम्पटीशन होता है जिसके बाद सर्च इंजन में हिंदी ब्लॉग को रैंक करना आसान होता है
  • हिंदी भाषा में ब्लॉग्गिंग करने के बाद आपके ब्लॉग की लैंग्वेज को गूगल का Voice Assistant सही से बोल सकता है
  • हिंदी ब्लॉग पर छोटे लेख भी रैंक होते है जबकि इंग्लिश ब्लॉग में आपको बड़े बड़े लेख लिखने पड़ते है
  • हिंदी ब्लॉग पर गूगल एडसेंस का अप्रूवल आसानी से मिल जाता है जिसके बाद आप कमाई शुरू कर सकते है
  • क्योकि हिंदी लैंग्वेज को भारत, बांग्लादेश, पाकिस्तान, नेपाल आदि देशो में बोला और समझा जाता है इसीलिए आपके हिंदी ब्लॉग पर इन देशो का भी ट्रैफिक आता है
  • आज के समय में सर्च इंजन गूगल हिंदी भाषा को ज्यादा प्राथमिकता दे रहा है क्योकि हिंदी रीडर की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है

Hindi Me Blogging Karne Ke Nuksan Kya Hai? | हिंदी में ब्लॉग्गिंग करने के नुकसान क्या है?

हिंदी भाषा में ब्लॉग्गिंग करने के नुकसान निम्नलिखत होते है 

  • हिंदी भाषा में ब्लॉग को गूगल एडसेंस कम CPC  एड्स पर देता है जिससे आपकी कमाई कम होती है
  • हिंदी ब्लॉग या ब्लॉग्गिंग करने के लिए हिंदी का अच्छा ज्ञान होना जरुरी है
  • हिंदी ब्लॉग्गिंग में आपको Hinglish Keyword का उपयोग करके अपना लेख लिखना होता है

English Me Blogging Karne Ke Fayde Kya Hai? | इंग्लिश में ब्लॉग्गिंग करने के फायदे क्या है?

इंग्लिश भाषा में ब्लॉग्गिंग करने के फायदे निम्नलिखत होते है 

  • इंग्लिश ब्लॉग से गूगल एडसेंस से कमाई अधिक होती है क्योकि इसमें एड्स पर CPC अधिक मिलता है
  • इंग्लिश ब्लॉग्गिंग के लिए आप किसी भी कीवर्ड रिसर्च टूल का उपयोग कर सकते है
  • क्योकि इंग्लिश एक इंटरनेशनल लैंग्वेज है इसीलिए इंग्लिश ब्लॉग पर पूरी दुनिया से ट्रैफिक रहता है

English Me Blogging Karne Ke Nuksan Kya Hai? | इंग्लिश में ब्लॉग्गिंग करने के नुकसान क्या है?

इंग्लिश भाषा में ब्लॉग्गिंग करने के नुकसान निम्नलिखत होते है 

  • इंग्लिश भाषा ब्लॉग को गूगल एडसेंस अप्रूवल आसानी से नहीं मिल जाता है लेकिन बाकि एड्स नेटवर्क एक इंग्लिश ब्लॉग को तुरंत अप्रूवल दे देते है
  • इंग्लिश ब्लॉग्गिंग में बहुत अधिक कम्पटीशन होने के कारण ब्लॉग को सर्च इंजन गूगल में रैंक करना मुश्किल हो जाता है
  • इंग्लिश ब्लॉग में आपकी Grammar सही होना जरुरी है इसके साथ आपको इंग्लिश लैंग्वेज सही प्रकार से आना जरुरी होता है

Blogging के लिए हिंदी भाषा क्यों बेहतर हैं?

क्योकि आजकल हिंदी भाषा को सर्च इंजन पर पढ़ने वाले यूजर की संख्या अधिक है ऐसे में हिंदी ब्लॉग्गिंग करना सही है हिंदी यूजर आर्टिकल या लेख को पूरा पढ़ते है इसके साथ आपके ब्लॉग पर हिंदी भाषा में कम्पटीशन कम मिलता है जिससे आप अपने हिंदी ब्लॉग को आसानी से रैंक करा सकते है

Hindi VS Hinglish कौन सी भाषा में Blogging करें?

देखिए दोस्तों Hindi Vs Hinglish में से आप अपने अनुसार भाषा का चुनाव कर सकते है क्योकि दोनों भाषा में ब्लॉग्गिंग करना सही है आज हिंदी भाषा को भारत, बांग्लादेश, पाकिस्तान, नेपाल आदि देशो में बोला और समझा जाता है

हिंगलिश ब्लॉग को एक हिंदी ब्लॉग की तुलना में सर्च इंजन में रैंक करना आसान है क्योकि सर्च इंजन हिंगलिश भाषा को जल्द समझता है हर यूजर गूगल पर अपनी क्वेरी को हिंगलिश भाषा में ही सर्च करता है

ऐसे में आप Hindi Vs Hinglish ब्लॉग में जिस भाषा पर आसानी से लेख या ब्लॉग पोस्ट लिख सकते है तो आपको उस भाषा में अपना ब्लॉग बनाना चाहिए

आपने क्या सीखा?

आज मैंने आपको Hindi Vs Hinglish Vs English Blogging In Hindi, इंग्लिश में ब्लॉग्गिंग करने के नुकसान क्या है, इंग्लिश में ब्लॉग्गिंग करने के फायदे क्या है, हिंदी में ब्लॉग्गिंग करने के नुकसान क्या है, हिंदी में ब्लॉग्गिंग करने के फायदे क्या है, क्या ब्लॉग्गिंग इंग्लिश भाषा में करनी चाहिए,

क्या ब्लॉग्गिंग हिंगलिश भाषा में करनी चाहिए, क्या ब्लॉग्गिंग हिंदी भाषा में करनी चाहिए, हिंगलिश क्या है हिंदी में, , Blogging के लिए हिंदी भाषा क्यों बेहतर हैं, Hindi VS Hinglish कौन सी भाषा में Blogging करें के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी है

Note – आपको जिस भाषा का ज्ञान है आपको उस भाषा में ब्लॉग्गिंग करनी चाहिए क्योकि अगर आपको हिन्दी भाषा की नॉलेज है और आप इंग्लिश में ब्लॉग बना रहे है तब आपको सबसे पहले इंग्लिश को अच्छे से सीखना होगा 

मैंने अपने ब्लॉग्गिंग करियर में ऐसे बहुत सारे नए ब्लॉगर को देखा है जो केवल पैसे कमाने के चक्कर में अपने ब्लॉग की भाषा का चुनते है और ब्लॉग्गिंग में असफल हो जाते है 

मुझे उमीद है कि आप सभी को “Hindi Vs Hinglish Vs English Blogging In Hindi” के बारे में सब कुछ समझ आ गया होगा फिर भी अगर आपका कुछ सवाल है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में मुझसे पूछ सकते है साथ ही आर्टिकल को शेयर जरुर करे

Credit By = itznitinsoni


Spread the love

Leave a Comment