Keyword Stuffing Kya Hai in Hindi? Keyword Stuffing Best Guide 2022

Spread the love

Keyword Stuffing Kya Hai in Hindi: – आज हम Keyword Stuffing क्या है, Blogger कहाँ कहाँ Keyword Stuffing करते है?, क्यों करते है ब्लॉगर Keyword Stuffing?, Keyword stuffing से बचने के लिए क्या करे?, कीवर्ड्स को सुरक्षित रूप से कैसे डालें, SEO में Keyword Stuffing का क्या असर पड़ता है? आदि के बारे में बात करेंगे –

आ गए सारे नए ब्लॉगर? यह आर्टिकल सभी ब्लॉगर को जरुर पढना चाहिए क्योकि सभी ब्लॉगर को यह बात पता होनी चाहिए कि Keyword Stuffing Kya Hai? SEO में कीवर्ड स्टफिंग का क्या प्रभाव पड़ता है

Keyword Stuffing Kya Hai in Hindi? Keyword Stuffing Best Guide 2022

आजकल सभी नए ब्लॉगर अपने ब्लॉग में Keywords की Spamming जरुर करते है कुछ को पता नहीं होता है और कुछ को यह पता नहीं होता है कि SEO में इसका क्या इफ़ेक्ट पड़ेगा

सभी ब्लॉगर आज अपने ब्लॉग को सर्च इंजन गूगल में रैंक करना चाहते है और इसके लिए अपनी मेहनत जरुर करते है ब्लॉगर अपने ब्लॉग का पूरी तरह से SEO करने के बाद अपने ब्लॉग पर काम शुरू करते है

SEO से आपकी वेबसाइट की सर्च इंजन में रैंकिंग बूस्ट होती है सभी सफल ब्लॉगर अपने ब्लॉग पर पोस्ट को Keyword Research करके लिखते है लेकिन उनको सभी चीजो का पता होता है

लेकिन नए ब्लॉगर यहाँ Keyword Stuffing करके गलती कर देते है जिससे सर्च इंजन में उनकी वेबसाइट की वैल्यू डाउन होती है साथ ही आपकी वेबसाइट की रैंकिंग पर भी इसका प्रभाव देखने को मिलता है

Keyword Stuffing Kya Hai in Hindi? Keyword Stuffing Best Guide 2022

इसीलिए आज मैं आपको कीवर्ड स्टफिंग के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दूंगा जिसके बाद आप अपने ब्लॉग में यह गलती करना बिल्कुल भी पसंद नहीं करेंगे चलिए अब हम What is Keyword Stuffing in Hindi के बारे में जान लेते है

Keyword Stuffing Kya Hai? | What is Keyword Stuffing in Hindi

Keyword Stuffing” कंटेंट के बीच में अपनी ब्लॉग पोस्ट के टारगेट कीवर्ड को एक तय लिमिट से ज्यादा डालना Keyword Stuffing कहलाता है कंटेंट या ब्लॉग पोस्ट के बीच में अपने कीवर्ड को डालना एक तकनीक है जिससे हम अपनी ब्लॉग पोस्ट को सर्च इंजन में रैंक करा सकते है

ऐसा करके आप अपनी वेबसाइट के Organic Traffic को बढ़ा सकते है आपको पता होगा ब्लॉग्गिंग में आज बहुत ज्यादा कम्पटीशन देखने को मिलता है

लेकिन अपने कंटेंट में कीवर्ड को ज्यादा बार रिपीट करना या कंटेंट में Keyword Stuffing करना SEO में एक बहुत बड़ी गलती है क्योकि सर्च इंजन की नजरो में यह Keyword Spamming में आ जाता है

Keyword Stuffing Kya Hai in Hindi? Keyword Stuffing Best Guide 2022

एक सफल ब्लॉगर बनने के लिए आपको यह समझना होगा कि Keyword सर्च इंजन में यूजर के द्वारा पूछा हुआ सवाल है वैसे ब्लॉग्गिंग में आजकल यह Keyword को भर भर कर कंटेंट में डालने वाला तरीका ज्यादा काम नहीं करता है क्योकि आजकल गूगल का अल्गोरिध्म बहुत ज्यादा स्मार्ट हो गया है

Blogger कहाँ कहाँ Keyword Stuffing करते है?

ज्यादातर नए ब्लॉगर अपने Title Tag, Meta Description, Page Url आदि में Keywords की Stuffing करते है ब्लॉगर यहाँ अपने Keyword को रिपीट करते है जिससे उन्हें लगता है कि ऐसा करने से उनकी ब्लॉग पोस्ट सर्च इंजन में रैंक हो जाएगी

लेकिन ऐसा अब नहीं होता है इसके अलावा भी ब्लॉगर अपने कंटेंट में बहुत ज्यादा कीवर्ड को रिपीट करते है जिससे उनकी ब्लॉग पोस्ट गूगल में रैंक नहीं होती है

अगर आप एक ब्लॉगर है तब आपको यह समझ लेना चाहिए कि आपको कंटेंट में Keyword को पुरे कंटेंट के लगभग 1 से 2% तक ही रिपीट करना चाहिए अगर आप इससे ज्यादा रखते है तब सर्च इंजन रिजल्ट पेज में आपके कंटेंट की रैंकिंग डाउन होने लगती है

नए ब्लॉगर अपने कंटेंट में Keyword को 5 से 10% तक रखते है जोकि बिल्कुल गलत है इससे आपके कंटेंट की क्वालिटी पर नेगेटिव असर पड़ता है

मेटा डिस्क्रिप्शन में आपको अपने कीवर्ड को रिपीट करने की भी जरुरत नहीं होती है आपको पता होगा कि ब्लॉग पोस्ट के मेटा डिस्क्रिप्शन की लेंथ 140 से 160 Character तक होती है ऐसे में आपको यहाँ एक पावरफुल और यूजर को आकर्षण करने वाला डिस्क्रिप्शन लिखना चाहिए

Keyword Stuffing Kya Hai in Hindi? Keyword Stuffing Best Guide 2022

  • Meta Description Kya Hai or Kaise Banaye?

टाइटल टैग में भी आप में से ज्यादातर ब्लॉगर अपने कीवर्ड को रिपीट करते है लेकिन आजकल SEO में आपको इसका फायदा भी नहीं मिलता है आपने टाइटल को ऐसा बनाये जिससे यूजर को पता चले कि आपका यह आर्टिकल किस के बारे में है

पेज यूआरएल में आप अगर यह सोचते है कि अपने यूआरएल में कीवर्ड का ज्यादा उपयोग करने से आपका आर्टिकल सर्च इंजन में अच्छा रैंक करेगा तो ऐसा बिल्कुल नहीं है

क्यों करते है ब्लॉगर Keyword Stuffing?

जब एक नया ब्लॉगर ब्लॉग्गिंग करने के लिए आता है तो वह ब्लॉग्गिंग से अच्छे पैसे कमाना चाहता है लेकिन जब उसको लम्बे समय तक सफलता नहीं मिलती है तब ब्लॉगर कीवर्ड स्टफिंग जैसे काम करते है

जिसके बाद भी उनकी ब्लॉग पोस्ट रैंक नहीं होती है कुछ लोग सबकुछ जानते हुए भी यह काम करते है क्योकि उनको ऐसा करने से थोड़े समय के लिए रिजल्ट भी मिल जाता है

Note – लेकिन ऐसा करना एकदम गलत है क्योकि अगर ऐसा करने से आपको रिजल्ट मिल भी जाते है फिर भी कुछ समय बाद आपकी रैंकिंग डाउन होना तय होता है

Keyword Stuffing Kya Hai in Hindi? Keyword Stuffing Best Guide 2022

Keyword stuffing से बचने के लिए क्या करे?

Keyword Stuffing से बचने के लिए इन बातो का रखे ध्यान –

  • कीवर्ड स्टफिंग से बचने के लिए आप बिल्कुल नेचुरल तरीके से अपनी ब्लॉग पोस्ट को लिखे ऐसा करने से आपके कंटेंट में कुछ Keyword आटोमेटिक आ जाते है और कुछ कीवर्ड को आप मनुआली Add कर सकते है
  • आप SEO Plugin का उपयोग कर सकते है क्योकि इसमें Keyword Density और कीवर्ड स्टफिंग के बारे में आपको आटोमेटिक पता चल जाता है अगर आपकी ब्लॉग पोस्ट की Keyword Density ज्यादा होगा तब आपकी कीवर्ड स्टफिंग भी उतनी ही बढेगी आपको इसको 1 से 2% तक ही रखना है यह SEO के लिए एक सही Keyword Density होती है
  • LSI Keyword का उपयोग आप कर सकते है क्योकि यह ऐसे शब्द होते है जोकि आपके टारगेट कीवर्ड के आस पास वाले वर्ड होते है इससे आप अपने आर्टिकल को ज्यादा क्वालिटी कंटेंट बना सकते है
  • आपको अपने आर्टिकल को पूरा सही तरह से एक्सप्लेन करना है क्योकि ऐसा करने से आपका यूजर किसी दूसरी ब्लॉग पोस्ट को नहीं पढता है इससे आपका कंटेंट Useful बनता है
  • Keyword का उपयोग भी Heading में कम करे इससे भी आपके कीवर्ड की संख्या आपके कंटेंट में कम होती है और आप Keyword Stuffing से बच सकते है
  • अपने टाइटल टैग में “टॉपिक में क्या क्या है” उसको एक लाइन में लिखने की कोशिश करे न कि उसमे ज्यादा से ज्यादा कीवर्ड का उपयोग करने की |
  • साथ ही अपने मेटा डिस्क्रिप्शन में अपने आर्टिकल को एक पैराग्राफ में अपने यूजर को समझाने की कोशिश करे आपको इसमें भी अपने कीवर्ड को बार बार रिपीट नहीं करना है

कीवर्ड्स को सुरक्षित रूप से कैसे डालें

इसके लिए आप अपने कंटेंट में टॉपिक को समझाते हुए कीवर्ड को डाल सकते है क्योकि ऐसा करके आप अपने यूजर को टॉपिक अच्छे से समझा भी देते है और आपके कंटेंट में आपके विषय से सम्बंदित कीवर्ड भी आ जाते है हम यह Example के माध्यम से समझते है

Example – आज हम बात करने वाले है Keyword Stuffing के बारे में जिसमे हम Keyword Stuffing क्या है?, इसके नुक्सान के बारे में डिटेल में बात करेंगे

Example – चलिए अब हम SEO Me Keyword Stuffing Ka Kya Effect Padhta Hai? के बारे में जान लेते है

SEO में Keyword Stuffing का क्या असर पड़ता है?

अगर में आपको Keyword Stuffing के द्वारा SEO पर क्या नेगेटिव असर पड़ता है यह बता दू तो आप इसको अच्छे से समझ सकते है –

  • कीवर्ड स्टफिंग करने के बाद आर्टिकल में किया गया पूरा SEO किसी काम का नहीं रहता है
  • Keyword Stuffing करने के बाद यूजर आपकी पोस्ट को पढ़ते नहीं है क्योकि आपने बार बार एक शब्द को उसमे रिपीट किया हुआ है इसके बाद वह यूजर आपकी वेबसाइट पर दुबारा विजिट नहीं करता है
  • कीवर्ड स्टफिंग करने के बाद आपकी वेबसाइट को ब्लाक किया जा सकता है यह ब्लाक Temporary या Permanent हो सकता है
  • Keyword Stuffing करने के बाद आपकी वेबसाइट को सर्च इंजन के द्वारा penalized भी किया जाता है
  • कीवर्ड स्टफिंग करने के बाद आपकी उस ब्लॉग को सर्च इंजन से हटाया भी जा सकता है

हाँ पहले ब्लॉगर कीवर्ड स्टफिंग के माध्यम से अपनी पोस्ट को सर्च इंजन गूगल में रैंक करा लेते थे लेकिन अब ऐसा नहीं होता है

FAQ

कीवर्ड स्टफिंग का क्या अर्थ है?

Keyword Stuffing” कंटेंट के बीच में अपनी ब्लॉग पोस्ट के टारगेट कीवर्ड को एक तय लिमिट से ज्यादा डालना कीवर्ड स्टफिंग कहलाता है कंटेंट या ब्लॉग पोस्ट के बीच में अपने कीवर्ड को डालना एक तकनीक है जिससे हम अपनी ब्लॉग पोस्ट को सर्च इंजन में रैंक करा सकते है

क्या कीवर्ड स्टफिंग SEO के लिए अच्छा है?

नहीं, कीवर्ड स्टफिंग करना SEO के लिए अच्छा नहीं होता है क्योकि यह ब्लॉग पोस्ट की रैंकिंग में अपना नेगेटिव इफ़ेक्ट डालता है

क्या कीवर्ड स्टफिंग स्पैम होता है ?

हाँ अपने कंटेंट या ब्लॉग पोस्ट में कीवर्ड स्टफिंग करना एक स्पैम है जोकि ब्लैक हेट SEO की एक तकनीक है क्योकि इसमें ब्लॉगर सब कुछ जानते हुए भी अपने कंटेंट में इन कीवर्ड का उपयोग बार बार करते है जिससे यह स्पैमिंग बन जाती है सर्च इंजन गूगल ऐसे वेब पेज को अपने रिजल्ट पेज में रैंकिंग नहीं देता है

आप कीवर्ड स्पैम कैसे करते हैं?

जब हम अपने कंटेंट को लिखते है तब हम उसमे उन शब्दों या वाक्यों का उपयोग करते है जिनको यूजर सर्च इंजन में सर्च करते है ऐसे में कुछ ब्लॉगर इन कीवर्ड का अपने कंटेंट में बार बार उपयोग करते है जिससे वह कीवर्ड स्पैम करते हैं

कीवर्ड स्टफिंग क्या है और यह खराब क्यों है?

Keyword Stuffing” कंटेंट के बीच में अपनी ब्लॉग पोस्ट के टारगेट कीवर्ड को एक तय लिमिट से ज्यादा डालना Keyword Stuffing कहलाता है कंटेंट या ब्लॉग पोस्ट के बीच में अपने कीवर्ड को डालना एक तकनीक है

जिससे हम अपनी ब्लॉग पोस्ट को सर्च इंजन में रैंक करा सकते है लेकिन आजकल ऐसा नहीं होता है और यह आपकी ब्लॉग पोस्ट की सर्च इंजन में रैंकिंग भी डाउन करता है इसलिए यह एक ख़राब मेथड है

आपने क्या सीखा 

आज मैंने Keyword Stuffing क्या है, Blogger कहाँ कहाँ Keyword Stuffing करते है?, क्यों करते है ब्लॉगर Keyword Stuffing?, Keyword stuffing से बचने के लिए क्या करे?, कीवर्ड्स को सुरक्षित रूप से कैसे डालें, SEO में Keyword Stuffing का क्या असर पड़ता है? आदि जानकारी आपको दी है

मुझे उमीद है कि आप सभी को “Keyword Stuffing” के बारे में सब कुछ समझ आ गया होगा फिर भी अगर आपका कुछ सवाल है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में मुझसे पूछ सकते है साथ ही आर्टिकल को शेयर जरुर करे

Article Credit By = itznitinsoni


Spread the love

3 thoughts on “Keyword Stuffing Kya Hai in Hindi? Keyword Stuffing Best Guide 2022”

Leave a Comment