Server Kya Hai in Hindi?, प्रकार सम्पूर्ण जानकारी Best Guide 2023

Spread the love

Server Kya Hai in Hindi: – आज हम सर्वर कितने प्रकार के होते है, सर्वर काम कैसे करता है, Dedicated और Non Dedicated सर्वर क्या है?, सर्वर डाउन क्यों होता है, सर्वर की क्यों आवश्यकता होती है?, क्या अपना खुद का Server बनाना संभव है?, Home Server क्या है? इसके लाभ क्या है? आदि के बारे में बात करेंगे –

आ गए सारे ब्लॉगर? सर्वर क्या है सर्वर इंटनेट पर वेबसाइट को Run करने वाला एक कंप्यूटर प्रोग्राम है जब यूजर किसी वेब पेज की रिक्वेस्ट सर्वर को देता है जिसके बाद वेब सर्वर उस पेज को यूजर को इंटरनेट के माध्यम से दिखा देता है

वेब सर्वर हर वेबसाइट के डाटा या वेब पेज को इंटरनेट पर स्टोर करता है और यूजर की क्वेरी के अनुसार उन्हें दिखता है ज्यादातर स्टूडेंट, ब्लॉगर, वेब डिज़ाइनर को सर्वर के बारे में सम्पूर्ण जानकारी चाहिए होती है

Server Kya Hai in Hindi?, प्रकार सम्पूर्ण जानकारी Best Guide 2022

जब कोई स्टूडेंट किसी competitive exams का फॉर्म फील करते है तब उन्हें इसके लिए इंटरनेट पर किसी वेबसाइट पर जाना होता है जिसमे सर्वर अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है अगर किसी वेबसाइट के वेब पेज के सर्वर पर ज्यादा लोड पड़ता है तब वह वेबसाइट खुलनी बंद हो जाती है

जब आप किसी बैंक में जाते है तब आपने यह जरूर सुना होगा कि सर्वर डाउन हो गया है ऐसे में आप सोचते होंगे कि आखिर प्रॉब्लम क्या है आज मैं आपको इसके बारे में सब कुछ समझा दूंगा

आसान भाषा में बात की जाए तो आप किसी भी प्रकार की इनफार्मेशन और डाटा को इंटरनेट के माध्यम एक्सेस करने के लिए सर्वर से वह जानकारी मिलती है

उदहारण के लिए किसी ब्लॉग को पढना, किसी विडियो को देखना, इंटरनेट से कोई एप्लीकेशन डाउनलोड करना, मेल भेजना, मेल को प्राप्त करना आदि चलिए अब हम सर्वर क्या है के बारे में जान लेते है

Server Kya Hai in Hindi? | What is Server in Hindi

Table of Contents

“सर्वर” एक कंप्यूटर प्रोग्राम टेक्नोलॉजी है जिसमे सर्वर को सॉफ्टवेयर के रूप में इनस्टॉल किया जाता है जो डाटा को स्टोर करने में सहायक होता है यूजर की रिक्वेस्ट के अनुसार यूजर तक स्टोर किया हुआ डाटा पहुंचने का काम सर्वर करता है

सर्वर में स्टोर डाटा नेटवर्क के माध्यम ट्रांसफर किया जाता है आज इंटरनेट का युग है इंटरनेट पर ब्राउज़र के माध्यम से सर्च की गयी क्वेरी में सर्च इंजन द्वारा दिखाए गए रिजल्ट में जिन वेबसाइट को दिखाया जाता है उनका डाटा सभी इंटरनेट पर किसी न किसी सर्वर पर स्टोर किया गया होता है

सर्वर नेटवर्क का एक हिस्सा है जो नेटवर्क के रिसोर्सेज को मैनेज करता है क्योकि सर्वर कई प्रकार के होते है जिनका काम भी अलग अलग होता है

जैसे – इंटरनेट सभी वेबसाइट के डाटा, YouTube videos, photos, PDF आदि को फाइल सर्वर में स्टोर किया जाता है लेकिन मुख्य सर्वर में Web server, Mail server, App server, डेटाबेस सर्वर आते है

सर्वर कितने प्रकार के होते है? | Types of Server in Hindi

सर्वर कई प्रकार के होते है लेकिन आज मैं आपको सभी मुख्य सर्वर के बारे में जानकारी दूंगा जैसे – 

  • Web Server ( वेब सर्वर )
  • Mail Server ( मेल सर्वर )
  • Multimedia Server ( मल्टीमीडिया सर्वर )
  • Application Server ( एप्लीकेशन सर्वर )
  • File Server ( फाइल सर्वर )
  • FTP Server ( एफटीपी सर्वर )
  • Proxy Server ( प्रॉक्सी सर्वर )
  • Database Server ( डाटाबेस सर्वर )
  • Chat Server ( चैट सर्वर )
  • Fax Server ( फैक्स सर्वर )
  • List Server ( लिस्ट सर्वर )

Web Server ( वेब सर्वर )

वेब सर्वर” के माध्यम से इंटरनेट पर मौजूद वेबसाइट या ब्लॉग के डाटा को स्टोर किया जाता है यह सॉफ्टवेयर सभी वेबसाइट को यूजर की रिक्वेस्ट के अनुसार उनके ब्राउज़र में दिखता है इसके अंदर टेक्स्ट, इमेज, विडियो, ऑडियो आदि को स्टोर करते है

Server Kya Hai in Hindi

सभी लोग इस सर्वर को Hosting या Web Hosting के नाम से जानते है ब्राउज़र के माध्यम से यूजर की रिक्वेस्ट को HTTP (Hypertext Transfer Protocol) का उपयोग करके उसकी प्रतिक्रिया दी जाती है

Mail Server ( मेल सर्वर )

मेल सर्वर” के द्वारा इंटरनेट पर Email को भेजा और प्राप्त करा जाता है मेल सर्वर के डेटाबेस में यूजर की ईमेल के डाटा को स्टोर करते है एक Email को एक मेल सर्वर से दूसरे मेल सर्वर पर भेजा जा सकता है इसे हम MTA ( Mail Server Transfer Agent ) कहते है

Multimedia Server ( मल्टीमीडिया सर्वर )

मल्टीमीडिया सर्वर” में ऑडियो, विडियो, इमेज को स्टोर किया जाता है जिसके माध्यम से हम इंटरनेट पर अपनी वेबसाइट में ऑडियो, विडियो, इमेज को स्टोर कर सकते है

Application Server ( एप्लीकेशन सर्वर )

एप्लीकेशन सर्वर” के माध्यम से एप्लीकेशन को बनाया जाता है इसलिए इसको ऐप सर्वर भी कहते है इसमें किसी एप्लीकेशन के डाटा को स्टोर करके इनस्टॉल और संचालित किया जाता है

इस सर्वर का उपयोग सभी ऐप डेवलपर Back-end business application में करते है इसके आलावा यह डेटाबेस वाली सभी एप्लीकेशन को बनाने ोे संचालित करने में उपयोग किया जाता है

File Server ( फाइल सर्वर )

फाइल सर्वर” का उपयोग सभी फाइल्स को स्टोर करने के लिए किया जाता है यह फाइल्स को ट्रांसफर करने के काम आता है इसमें आप टेक्स्ट डॉक्यूमेंट, मल्टीमीडिया, फोटोज सभी चीजों को स्टोर कर सकते है

FTP Server ( एफटीपी सर्वर )

“FTP” सर्वर एक फाइल ट्रांसफर सर्वर होता है जिसके माध्यम से ऑनलाइन फाइल्स को ट्रांसफर किया जाता है इसका पूरा नाम  File Transfer Protocol है इसमें आपकी सभी फाइल्स सुरक्षित रूप से ट्रांसफर हो जाती है

FTP Server के माध्यम से दुनिया के किसी भी कंप्यूटर में से फाइल को ट्रांसफर किया जा सकता है

Proxy Server ( प्रॉक्सी सर्वर )

“प्रॉक्सी सर्वर” का काम यूजर और इंटरनेट के बीच गेट के रूप में होता है इस सर्वर का काम यूजर की रिक्वेस्ट को IP Address के माध्यम से इंटरनेट तक पहुंचना होता है इसके बाद यह इंटरनेट से डाटा को ढूंढकर यूजर तक पहुँचता है

सिक्योरिटी के लिए हम प्रॉक्सी सर्वर का उपयोग करते है इस सर्वर के पास अपना IP Address होता है

Database Server ( डाटाबेस सर्वर )

“डेटाबेस सर्वर” के अंदर अन्य किसी सर्वर के डाटा को स्टोर किया जा सकता है इसके साथ आप उसको मैनेज कर सकते है यह एक सिस्टम है इसका एक्सेस केवल Authorized Person के पास ही होता है

Chat Server ( चैट सर्वर )

“चैट सर्वर” के माध्यम से चैट मैसेज को भेजा और प्राप्त करा जाता है चैट सर्वर एक बहुत पॉवरफुल सर्वर होता है जिसमे आप रियल टाइम मैसेज अथार्थ मैसेज भेजने के बाद तुरत पहुंच जाना चैट सर्वर के माध्यम से होता है

Server Kya Hai in Hindi?, प्रकार सम्पूर्ण जानकारी Best Guide 2022

जैसे आपने देखा होगा कि Whatsapp पर आप किसी व्यक्ति को मैसेज भेजते है उस व्यक्ति के पास वह मैसेज तुरत पहुंच जाता है यह चैट सर्वर के कारण होता है

Fax Server ( फैक्स सर्वर )

“फैक्स सर्वर” के माध्यम से फैक्स को ट्रांसफर किया जाता है यह सर्वर फैक्स को भेजते और प्राप्त करते है इसका उपयोग संगठन द्वारा किया जाता है

List Server ( लिस्ट सर्वर )

“लिस्ट सर्वर” का उपयोग Newsletters, विज्ञापन आदि को मैनेज करने के लिए किया जाता है

सर्वर काम कैसे करता है? | Server Kaam Kaise Karta Hai?

सर्वर के काम करने का तरीका बहुत आसान है चलिए स्टेप बाई स्टेप जानते है

  • सबसे पहले जब आप अपने ब्राउज़र में किसी वेबसाइट के यूआरएल ( https://nsarticle.com ) को डालते है तब आपका ब्राउज़र उस वेबसाइट को होस्ट करने वाले सर्वर पर पहुँचता है जिससे ब्राउज़र को उस वेबसाइट का डाटा मिल सके जिसके बाद ब्राउज़र उसको अपने यूजर को दिखा सकता है
  • इसके बाद आपके यूआरएल में क्रमशः Http protocol, वेबसाइट होम पेज यूआरएल ( https://nsarticle.com ), वेब पेज पर्मालिंक ( server-kya-hai-in-hindi ) होता है
  • जिसमे वेबसाइट के यूआरएल में से डोमेन नाम को IP Address में बदला जाता है सर्वर मिलने के बाद ब्राउज़र और सर्वर आपस में कनेक्ट हो जाते है
  • जिसके बाद यूजर की रिक्वेस्ट को ब्राउज़र सर्वर की फाइल्स में उपस्थित फाइल्स में ढूंढता है और अपने यूजर को उसके डिवाइस में दिखाता है

सर्वर का पूरा प्रोसेस बहुत तेज होता है जिससे यूजर को सर्च करते ही रिजल्ट देखने को मिल जाते है Example – जिस प्रकार आप YouTube के सर्च बॉक्स में किसी वीडियो का नाम लिखते है

इसके बाद यह एक रिक्वेस्ट होती है जिसको YouTube के सर्वर में ढूंढा जाता है क्योकि वहां YouTube का सारा डाटा स्टोर किया जाता है इंटरनेट पर हर काम में सर्वर का इसी तरह उपयोग किया जाता है। क्योकि सर्वर हमें डाटा तक पहुंचने में मदत करता है

Dedicated और Non Dedicated सर्वर क्या है?

“Dedicated Server” ऐसे सर्वर को कहा जाता है जो 24 Hours ऑनलाइन रहते है क्योकि यह सर्वर बहुत पॉवरफुल होते है इसीलिए यह बहुत महंगे होते है गूगल, फेसबुक जैसी बड़ी बड़ी कंपनी इन सर्वर का उपयोग करती है

क्योकि इन कंपनी के कुछ सेकंड के रुकने से बहुत लोगो के काम रुक सकते है “Non Dedicated Server” ऐसे सर्वर को कहा जाता है जो 24 Hours ऑनलाइन नहीं रहते है आप काम ख़तम होने के बाद इनको बंद कर सकते है

सर्वर डाउन क्यों होता है? | Server Down का मतलब क्या है

सर्वर का यूजर की रिक्वेस्ट को लोड करने में असफल हो जाना या सर्वर का धीरे धीरे काम करना सर्वर डाउन कहलाता है” ऐसे में आपको Server Not Found, Server Error, server not responding के Error देखने को मिलते है

आप  ज्यादातर लोगो ने बैंक में यह बात सुनी होगी कि सर्वर डाउन है वैसे सर्वर के डाउन होने के अनेक कारण होते है जैसे – Network problem, Application crash, operating system crashes, power failure, DOS attack

Server Kya Hai in Hindi?, प्रकार सम्पूर्ण जानकारी Best Guide 2022

क्योकि यह एक तरह के हार्डवेयर या सॉफ्टवेयर प्रोग्राम है इसलिए किसी तकनीकी समस्या की वजह से भी यह डाउन हो जाते है

Note – वेबसाइट पर अधिक ट्रैफिक या यूजर का आना सर्वर डाउन का बहुत बड़ा कारण बनता है क्योकि होस्टिंग लेते समय हर सर्वर की Capacity होती है अगर उससे अधिक विजिटर इसमें आ जाते है तब इसका सर्वर डाउन हो जाता है 

सर्वर की क्यों आवश्यकता होती है?

अगर आप ऑनलाइन वेबसाइट बनाना चाहते है तब आपको उस वेबसाइट की फाइल्स को ऐसी जगह रखना होगा जिससे इंटरनेट पर उन फाइल्स को ढूंढा जा सके इसमें आपको सर्वर की आवश्यकता पड़ती है

जब आप किसी वेबसाइट पर अपना अकाउंट बनाते है तब आपका वह डाटा उस वेबसाइट के फाइल सर्वर में स्टोर किया जाता है जिससे उस डाटा को कोई दूसरा यूजर उपयोग न कर सके क्योकि फाइल्स डाटा को यह अधिकार होता है कि वेबसाइट के एक यूजर का डाटा दूसरे यूजर से दूर रख सके।

क्योकि सर्वर 24 घंटे चालू रहता है इसलिए अगर हार्डवेयर फ़ैल भी हो जाता है तब भी सर्वर अपना काम करता रहता है क्योकि बिजली न होने पर कंप्यूटर का सर्वर आटोमेटिक Shut Down हो जाता है

जिससे आपका डाटा भी खो सकता है लेकिन कंप्यूटर में पावर सप्लाई से लैस सर्वर होता है इसीलिए ऐसा नहीं होता है अगर आप कंप्यूटर के स्टूडेंट है तब आपको पता होगा कि PC में solitary hard disk की जगह RAID Configuration hard drive का उपयोग किया जाता है

जिससे सर्वर के डाटा लॉस या फिर काम करने में रूकावट को रोकने के लिए किया जाता है इसलिए सर्वर में higher storage capacity होती है सर्वर में कंप्यूटर की तुलना में ज्यादा memory, storage और processing power देखने को मिलती है

क्या अपना खुद का Server बनाना संभव है?

हाँ ऐसा करना संभव है आप अपना खुद का सर्वर बना सकते है इसके लिए आप अपने किसी पुराने कंप्यूटर का उपयोग करके Home server चला सकते है जिसको आप internet service and provide से कनेक्ट भी कर सकते है

Home Server क्या है? इसके लाभ क्या है?

जैसा मैंने ऊपर बताया ही कि यह एक कंप्यूटर है जिसमें हम होम नेटवर्क की तरह कार्य सकते है क्योकि यह हमारे घर में स्थित होता है जो घर के भर और अंदर डिवाइस को अपनी सेवा प्रदान कर सकता है

होम सर्वर के लाभ निम्नलिखित है जैसे –

  • इसके बाद हमें अपनी वेबसाइट को होस्ट करने के लिए वेब होस्टिंग खरीदने की आवयश्यकता नहीं पड़ती है क्योकि आप अपनी उस वेबसाइट को अपने खुद के सर्वर में होस्ट कर सकते है
  • इसके बाद आप अपनी मीडिया फाइल्स जैसे – movies, photos, songs को यहाँ रख सकते है क्योकि यह आपको स्पेस प्रोवाइड करता है
  • आपका सर्वर 24 घंटे चालू रह सकता है इसके साथ ही आप इसमें अपनी फाइल्स का बैकअप लेकर उनको सुरक्षित रख सकते है
  • डेस्कटॉप की तुलना करने पर एक सर्वर अधिक पावरफुल होता है क्योकि सर्वर अधिक powerful processor होता है
  • इसके माध्यम से आप ऑटोमेशन डिवाइस जैसे – lighting system, watering system, heating cooling आदि को आसानी से नियंत्रित कर सकते है

FAQ

सर्वर क्या काम करता है?

सर्वर नेटवर्क के माध्यम से जो फाइल्स उसमे स्टोर की गई है उनको ट्रांसफर करने का काम करता है जो फाइल्स सर्वर में स्टोर होते है उनको सही प्रकार से मैनेज करके सर्वर यूजर की रिक्वेस्ट के अनुसार फाइल की कॉपी को यूजर के ब्राउज़र में यूजर को दिखा देता है

सर्वर का मतलब क्या है?

सर्वर का मतलब एक तरह का हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर होता है जिसमे डाटा को स्टोर किया जाता है यह एक ऐसा कंप्यूटर प्रोग्राम है जिसमे आप इंटरनेट का डाटा सेव रख सकते है

सर्वर कितने होते हैं?

सर्वर कई प्रकार के होते है जैसे – Web Server ( वेब सर्वर ), Mail Server ( मेल सर्वर ), Multimedia Server ( मल्टीमीडिया सर्वर ), Application Server ( एप्लीकेशन सर्वर ), File Server ( फाइल सर्वर ), FTP Server ( एफटीपी सर्वर )

Proxy Server ( प्रॉक्सी सर्वर ), Database Server ( डाटाबेस सर्वर ), Chat Server ( चैट सर्वर ), Fax Server ( फैक्स सर्वर ), List Server ( लिस्ट सर्वर ) आदि 

सर्वर क्या है प्रकार सहित समझाइए?

“सर्वर” एक कंप्यूटर प्रोग्राम टेक्नोलॉजी है जिसमे सर्वर को सॉफ्टवेयर के रूप में इनस्टॉल किया जाता है जो डाटा को स्टोर करने में सहायक होता है यूजर की रिक्वेस्ट के अनुसार यूजर तक स्टोर किया हुआ डाटा पहुंचने का काम सर्वर करता है

जैसे – इंटरनेट सभी वेबसाइट के डाटा, YouTube videos, photos, PDF आदि को फाइल सर्वर में स्टोर किया जाता है लेकिन मुख्य सर्वर में Web server, Mail server, App server, डेटाबेस सर्वर आते है

सर्वर कैसे बनता है?

किसी सर्वर को बनाने के लिए आपको ऑपरेटिंग सिस्टम को इंस्टाल करने और इंटरनेट कनेक्शन की जरुरत पड़ती है अगर आप किसी कंप्यूटर के माध्यम से ऐसा करना चाहते है तब आपको यह देखना बहुत जरुरी है कि उस कंप्यूटर की Storage Capacity सही हो और वह 24 घंटे लगातार काम करने की क्षमता भी रखता हो।

सर्वर क्या है इसकी विशेषता बताइए?

सर्वर एक कंप्यूटर प्रोग्राम टेक्नोलॉजी है जिसमे सर्वर को सॉफ्टवेयर के रूप में इनस्टॉल किया जाता है जो डाटा को स्टोर करने में सहायक होता है यूजर की रिक्वेस्ट के अनुसार यूजर तक स्टोर किया हुआ डाटा पहुंचने का काम सर्वर करता है

अगर आप कंप्यूटर के स्टूडेंट है तब आपको पता होगा कि PC में solitary hard disk की जगह RAID Configuration hard drive का उपयोग किया जाता है जिससे सर्वर के डाटा लॉस या फिर काम करने में रूकावट को रोकने के लिए किया जाता है इसलिए सर्वर में higher storage capacity होती है

सर्वर के 4 प्रमुख घटक क्या हैं?

सर्वर के चार मुख्य घटक CPU, मेमोरी, हार्ड डिस्क और RAID कार्ड होते है

सर्वर डाउन प्रॉब्लम क्या है?

सर्वर का यूजर की रिक्वेस्ट को लोड करने में असफल हो जाना या सर्वर का धीरे धीरे काम करना सर्वर डाउन कहलाता है” ऐसे में आपको Server Not Found, Server Error, server not responding के Error देखने को मिलते है

वेब सर्वर क्या होता है?

वेब सर्वर” के माध्यम से इंटरनेट पर मौजूद वेबसाइट या ब्लॉग के डाटा को स्टोर किया जाता है यह सॉफ्टवेयर सभी वेबसाइट को यूजर की रिक्वेस्ट के अनुसार उनके ब्राउज़र में दिखता है इसके अंदर टेक्स्ट, इमेज, विडियो, ऑडियो आदि को स्टोर करते है

सर्वर डाउन क्यों होता है?

सर्वर डाउन होने के कई कारण होते है जैसे – सर्वर का यूजर की रिक्वेस्ट को लोड करने में असफल हो जाना, सर्वर का धीरे धीरे काम करना, operating system crashes, power failure, DOS attack, कोई तकनीकी समस्या, Network problem, Application crash आदि

लेकिन सर्वर के डाउन होने का मुख्य कारण वेबसाइट पर ज्यादा ट्रैफिक आना होता है जिससे आपका सर्वर डाउन हो जाता है

अपने कंप्यूटर को सर्वर कैसे बनायें?

इसके लिए आपको अपने कंप्यूटर में हाई Storage Capacity की जरुरत पड़ती है इसके साथ आपको यह भी देखना होता है कि क्या आपका कंप्यूटर 24 * 7 घंटे लगातार काम कर सकता है

आपने क्या सीखा?

आज मैंने आपको Server Kya Hai in Hindi, सर्वर कितने प्रकार के होते है, सर्वर काम कैसे करता है, Dedicated और Non Dedicated सर्वर क्या है?, सर्वर डाउन क्यों होता है, सर्वर की क्यों आवश्यकता होती है?

क्या अपना खुद का Server बनाना संभव है?, Home Server क्या है? इसके लाभ क्या है आदि के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी है

मुझे उमीद है कि आप सभी को “Server Kya Hai” के बारे में सब कुछ समझ आ गया होगा फिर भी अगर आपका कुछ सवाल है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में मुझसे पूछ सकते है साथ ही आर्टिकल को शेयर जरुर करे

Credit By = itznitinsoni


Spread the love

Leave a Comment