White Hat SEO Kya Hai? Black Hate SEO?, ( Best SEO Technique ) Best Guide 2023

Spread the love

White Hat SEO Kya Hai : – आज हम SEO कितने तरीको के होते है, वाइट हैट SEO क्या है हिंदी में, ब्लैक हैट SEO क्या है हिंदी में, ग्रे हैट SEO क्या है हिंदी में, ब्लैक हैट SEO के फायदे क्या है, ब्लैक हैट SEO के नुकसान क्या है, ब्लैक हैट SEO तकनीक,

वाइट हैट SEO तकनीक, White Hat vs Black Hat SEO में से कौन ज्यादा इफेक्टिव होता है, Black hat vs White hat SEO के क्या परिणाम होते है आदि के बारे में बात करेंगे –

आ गए सारे ब्लॉगर? ब्लैक Hat SEO क्या है? या वाइट Hat SEO क्या है जब कोई नया ब्लॉगर अपने Blogging Career में SEO ( सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन ) का नाम सुनता है तब वह White Hat SEO और Black Hat SEO के नाम के बारे में पढता है

आज सर्च इंजन गूगल के रैंकिंग मेथडको कोई नहीं समझ पाया है क्योकि गूगल इसमें बहुत सारे SEO फैक्टर्स को उपयोग में लेता है ऐसे में जब कोई ब्लॉग किसी ऐसे तरीके का उपयोग करता है जोकि SEO के नियमो में नहीं आता है तब वह ब्लॉग Black Hat SEO के अंदर आता है

White Hat SEO Kya Hai? Black Hate SEO?, Best SEO Technique in Hindi 2022

ऐसे शार्ट तरीके एक लॉन्ग टर्म ब्लॉग्गिंग के लिए काम नहीं करते है ऐसे में सर्च इंजन आपके ब्लॉग को ब्लॉक भी कर सकता है इसलिए आप सभी नए ब्लॉगर ऐसे किसी भी मेथड का उपयोग ब्लॉग को रैंक करने के लिए न करे

इसके साथ जो SEO वेबसाइट के ट्रैफिक को बढ़ाने के लिए सही मेथड के द्वारा किया जाता है उसे White Hat SEO के अंदर रखा जाता है हर ब्लॉग या वेबसाइट के लिए SEO एक बहुत जरुरी काम होता है क्योकि इसके माध्यम से आप अपने ब्लॉग पर सर्च इंजन से आर्गेनिक ट्रैफिकबढ़ाते है

ब्लॉग या वेबसाइट के लिए जल्द रैंक होने की कोई ट्रिक लगाना आपके लिए बेकार हो सकता है लेकिन नए ब्लॉगर अपने ब्लॉग में ऐसे काम को जल्दी आगे बढ़ने के लिए जरूर करते है लेकिन अगर आप सर्च इंजन के अल्गोरिथम के अनुसार काम करेंगे तब आपके ब्लॉग को फायदा होगा

आज मैं आपको ब्लैकहैटएसीओवाइट हैटएसीओ के बारे में सम्पूर्ण जानकारी केवल एक लेख में दूंगा इसके साथ मैं Black Hat SEO Technique In Hindi, White Hat SEO Technique In Hindi, Black Hat SEO Hindi के बारे में जानकारी दूंगा

SEO कितने तरीको के होते है? | SEO Kitne Tariko Ke Hote Hai?

Table of Contents

SEO मुख्य रूप से तीन तरीके के होते है जिनके बारे में नीचे बताया गया है –

  • White Hat SEO ( वाइट हैट एसीओ )
  • Black Hat SEO ( ब्लैक हैट एसीओ )
  • Gray Hat SEO ( ग्रे हैट एसीओ )

White Hat SEO Kya Hai? | वाइट हैट SEO क्या है हिंदी में

“वाइट हैट SEO” में सभी ब्लॉगर अपने ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च इंजन गूगल में रैंक करने के लिए सर्च इंजन की Guideline का पालन करते है इसमें हर वेबसाइट या ब्लॉग का उद्देश्य सर्च इंजन में रैंक ब्लॉग रैंक करके ब्लॉग पर ट्रैफिक प्राप्त करना है

इस SEO का उपयोग करने पर आपके ब्लॉग या वेबसाइट को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना करना नहीं पड़ता है ऐसे में आप White Hat SEO Technique In Hindi का उपयोग कर सकते है ऐसे SEO को Human को ध्यान में रखकर किया जाता है

White Hat SEO Kya Hai? Black Hate SEO?, Best SEO Technique in Hindi 2022

क्योकि इसमें आप अपने ब्लॉग के लिए सही प्रकार से काम करते है यह एक लम्बा प्रोसेस होता है इसमें आपको रिजल्ट मिलने में समय लग जाता है लेकिन इसमें आपको कुछ समय बाद अच्छे रिजल्ट देखने को मिलते है

इसमें keywords analysis, keyword research, LSI keywors, rewriting meta tags, link building आदि चीजे आ जाती है 

Black Hat SEO Kya Hai? | ब्लैक हैट SEO क्या है हिंदी में

“ब्लैक हैट SEO” में  ब्लॉगर अपने ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च इंजन गूगल में रैंक करने के लिए सर्च इंजन की Guideline का पालन नहीं करते है इसमें भी हर वेबसाइट या ब्लॉग का उद्देश्य सर्च इंजन में रैंक ब्लॉग रैंक करके ब्लॉग पर ट्रैफिक प्राप्त करना है

ऐसे SEO को सर्च इंजन में कभी भी मान्यता नहीं दी जाती है इसलिए ऐसे SEO का उपयोग करने से आपके ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च इंजन द्वारा ब्लॉक या बैन किया जा सकता है क्योकि इस SEO के अंदर ऐसी Black Hat SEO Technique In Hindi आती है

जिनके द्वारा किसी ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च इंजन में तेजी से रैंक किया जा सकता है ऐसे SEO का उपयोग जल्दी रिजल्ट मिलने के लिए किया जाता है जोकि एकदम गलत है ऐसे SEO को सर्च इंजन के Robots को ध्यान में रखकर किया जाता है

White Hat SEO Kya Hai? Black Hate SEO?, Best SEO Technique in Hindi 2022

इसमें keyword stuffing, link farming, hidden text और links आदि काम आते है 

क्योकि सर्च इंजन के समय समय पर अपडेट आते रहते है जैसे – Google Panda और Google Penguin इनके आने पर बहुत बड़ी बड़ी वेबसाइट को Penalize किया गया था इसमें वेबसाइट की रैंकिंग और वैल्यू को डाउन किया जाता है

ब्लैक हैट SEO करने की अनुमति सर्च इंजन नहीं देता है इसलिए नए ब्लॉगर को अपने ब्लॉग पर इस तरह के SEO को करने से बचना चाहिए अन्यथा आपकी वेबसाइट को इंडेक्स होने से रोका जा सकता है

Grey Hat SEO Kya Hai? | ग्रे हैट SEO क्या है हिंदी में

“ग्रे हैट SEO” के अंदर ब्लॉगर वाइट हैट और ब्लैक हैट SEO दोनों को करते है लेकिन इसमें ब्लैक हैट SEO की तुलना में वाइट हैट SEO को किया जाता है अगर आप इसमें 95% White Hat SEO का उपयोग करते है तब आप 5% Black Hat SEO का उपयोग करते है 

ब्लैक हैट SEO के फायदे क्या है? | Black Hat SEO Ke Fayde Kya Hai?

ब्लैक हैट SEO के फायदे निम्नलिखित होते है जैसे –

  • ब्लैक हैट SEO से आपका ब्लॉग सर्च इंजन गूगल में जल्द रैंक कर जाता है
  • ब्लॉग पर ब्लैक हैट SEO करने से आपको कम मेहनत में बहुत अच्छे रिजल्ट देखने को मिल जाते है
  • इसके माध्यम से आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर कम समय में अधिक ट्रैफिक प्राप्त कर लेते है
  • ब्लैक हैट SEO आपके टारगेट फोकस कीवर्ड पर रैंक करने में मदत करता है
  • कम समय के लिए आप किसी प्रोडक्ट को ब्लॉग पोस्ट रैंक कराकर बेच सकते है

ब्लैक हैट SEO के नुकसान क्या है? | Black Hat SEO Ke Nuksan Kya Hai?

ब्लैक हैट SEO के नुकसान निम्नलिखित होते है जैसे –

  • आपकी वेबसाइट को सर्च इंजन हमेशा के लिए ब्लॉक करके आपकी सारी मेहनत को बेकार कर देता है
  • ब्लैक हैट SEO के कारण सर्च इंजन अपने किसी अपडेट के अनुसार आपके ब्लॉग का ट्रैफिक और रैंकिंग डाउन कर देता है
  • इसमें सर्च इंजन आपकी वेबसाइट को Ban करने का भी अधिकार रखता है
  • ब्लैक हैट SEO में आपके ब्लॉग से होने वाली कमाई कभी भी ख़तम हो सकती है
  • ऐसी वेबसाइट सर्च इंजन के द्वारा Penalize भी की जा सकती है जिसके बाद जुरमाना देना पड़ता है
  • इन वेबसाइट को कभी भी कुछ भी हो सकता है इसलिए आप इन पर डर डर के काम करते है क्योकि इनपर हमेशा खतरा बना रहता है

Black Hat SEO Technique In Hindi? | ब्लैक हैट SEO तकनीक

Black Hat SEO के अंदर बहुत सारे काम आते है जिनको नए ब्लॉगर अपने ब्लॉग को सर्च इंजन में जल्द से जल्द रैंक कराने के लिए उपयोग में लाते है इन सभी Black Hat SEO Technique In Hindi के बारे में नीचे बताया गया है

Keyword Stuffing – जब आप अपनी ब्लॉग पोस्ट में कीवर्ड को जरुरत से ज्यादा प्रयोग करते है ऐसे करके आप अपनी ब्लॉग पोस्ट में Keyword Stuffing करते है ऐसा करके आप अपनी ब्लॉग पोस्ट को सर्च इंजन गूगल में रैंक कराने की कोशिश करते है

Spamdexing – इसमें ब्लॉगर अपने ब्लॉग को सर्च इंजन में रैंक कराने के लिए unrelated phrases का जरुरत से ज्यादा जोकि यूजर के लिए उपयोगी नहीं होता है फिर भी वह ऐसा करते है जोकि Black Hat SEO के अंदर आता है 

Duplicate Content – इसमें ब्लॉगर अपने ब्लॉग पर किसी दूसरे ब्लॉग या वेबसाइट के कंटेंट को पब्लिश करते है लेकिन ऐसे ब्लॉग को सर्च इंजन जब एक बार पकड़ लेता है तब वह ऐसे ब्लॉग की रैंकिंग हमेशा के लिए डाउन देता है जिसके बाद यह ब्लॉग Black Hat SEO के अंदर है

Spin Content – इसमें आप किसी पेड या फ्री आर्टिकल राइटर ऑनलाइन टूल का उपयोग करते अपने ब्लॉग के लिए कंटेंट को Rewrite या स्पिन करते है जिसके बाद वह अपनी वेबसाइट को रैंक करते है यह Black Hat SEO के अंदर आता है 

Unrelated Meta Description – जब आप अपने ब्लॉग पर ब्लॉग पोस्ट लिखते है तब उसमे एक शार्ट डिस्क्रिप्शन लिखा जाता है जोकि सर्च इंजन के रिजल्ट पेज पर दिखाया जाता है यह ब्लॉग पोस्ट का मेटा डिस्क्रिप्शन होता है जिसमे ब्लॉगर unrelated keywords का उपयोग करते है

White Hat SEO Kya Hai? Black Hate SEO?, Best SEO Technique in Hindi 2022

क्योकि यह सर्च इंजन को गलत तरीके से ब्लॉग पोस्ट को रैंक करने का सिग्नल देता है इसीलिए यह Black Hat SEO के अंदर आ जाता है 

Doorway and Gateway Post – इसमें कंटेंट में केवल एक तरह के कीवर्ड का उपयोग करके ब्लॉग पोस्ट को लिखा जाता है जिसके कारण यह आधी-अधूरी post हो जाती है जोकि यूजर के लिए उपयोगी न होकर Black Hat SEO के अंदर आ जाती है 

Doorway Pages – इसके अंदर ब्लॉग पर fake वेब पेज को बनाया जाता है जिनको केवल सर्च इंजन के बोट्स या क्रॉलर के लिए अपने ब्लॉग की रैंकिंग को बढ़ाने के लिए क्रिएट किया जाता है यह वेब पेज ब्लॉग या वेबसाइट के यूजर को दिखाई नहीं देते है इसलिए Black Hat SEO में यह आते है 

Mirror Site – इसमें किसी ब्लॉग या वेबसाइट को पूरी तरह से कॉपी करके बनाया जाता है जिससे कि सर्च इंजन में उस वेबसाइट या ब्लॉग को रैंक किया जा सके लेकिन सर्च इंजन ऐसे ब्लॉग को Black Hat SEO में डालकर ब्लॉक कर देते है 

Paid Traffic – कुछ ब्लॉगर ऐसे भी होते है जोकि अपने ब्लॉग पर पैसे देकर ट्रैफिक प्राप्त करते है जिसके बाद वेबसाइट पर यूजर की एक्टिविटी के कारण आपकी वेबसाइट का बाउंस रेट बढ़ जाता है जिनको सर्च इंजन पकड़कर रैंकिंग डाउन करके Black Hat SEO में डाल देता है 

Hidden Link – इसमें वेबसाइट या ब्लॉग की ब्लॉग पोस्ट को लिखते समय उसमे लिंक को छुपाया जाता है ऐसा गलत काम हैकर अपनी वेबसाइट में करते है जिसको सर्च इंजन Black Hat SEO मानता है 

Paid Link Building – इस तरीके में ब्लॉगर अपने ब्लॉग को सर्च इंजन में रैंक कराने के लिए अपने ब्लॉग पोस्ट पर Paid Link Building ( पैसे देकर बैकलिंक बनाना ) वाली एक्टिविटी करते है जिनको सर्च इंजन पकड़कर Black Hat SEO में डाल देता है 

Hidden Text और Keywords – कुछ ब्लॉगर अपनी वेबसाइट को सर्च इंजन में रैंक करने के लिए अपने कंटेंट या ब्लॉग पोस्ट में कीवर्ड और टेक्स्ट का उपयोग छुपा कर करते है जोकि एक गलत तरीका है और यह Black Hat SEO में आता है 

Link Farming – अगर आप अपनी वेबसाइट पर unrelated pages को लिंक माध्यम से जोड़ते है तब आप लिंक फार्मिंग करते है लेकिन ऐसा करके आप अपनी वेबसाइट को Ban करा सकते है यह Black Hat SEO में आता है 

White Hat SEO Kya Hai? Black Hate SEO?, Best SEO Technique in Hindi 2022

Clocking – यह किसी वेब पेज को सर्च इंजन के बोट्स/क्रॉलर और यूजर को अलग तरह से दिखा कर अपना यूजर एक्सपीरियंस ख़राब करते है ऐसी वेबसाइट या ब्लॉग को सर्च इंजन ढूंढकर Penalize कर देता है 

Spam Comment – इसमें ब्लॉगर कमेंट के माध्यम से बैकलिंक बनाते है लेकिन Relevant बैकलिंक न होना वेबसाइट के लिए स्पैम कमेंट करने की तरह ईशारा करता है इसके लिए आप वर्डप्रेस में Antispam Plugin का उपयोग कर सकते है 

White Hat SEO Technique In Hindi? | वाइट हैट SEO तकनीक

White Hat SEO के अंदर बहुत सारे काम आते है जिनको नए ब्लॉगर अपने ब्लॉग को सर्च इंजन में रैंक कराने के लिए उपयोग में लाते है लेकिन इसमें आने वाले सभी काम सर्च इंजन के अल्गोरिथम को फॉलो करते है इन सभी White Hat SEO Technique In Hindi के बारे में नीचे बताया गया है –

Quality Content – एक क्वालिटी कंटेंट हर ब्लॉग की जान होता है यह इंटरनेट पर उपस्थित हर ब्लॉग की एक ओरिजनल पहेचान बनांता है हर ब्लॉगर का कंटेंट अच्छा होने पर ही उसको सही तरह से सर्च इंजन गूगल में रैंक किया जाता है

इसके साथ सभी ब्लॉगर ON Page SEO का भी सहारा गूगल में रैंक कारने के लिए लेते है यह White Hat SEO में आता है उपयोगी कंटेंट की वैल्यू यूजर अपने आप बना देते है

Titles and Meta Discription – यह वेबसाइट को रैंक कराने में अपनी भूमिका निभाता है क्योकि हर वेबसाइट या ब्लॉग की ब्लॉग पोस्ट में टाइटल और मेटा डिस्क्रिप्शन यूजर को सर्च इंजन रिजल्ट पेज पर दिखाया जाता है

इसलिए सभी ब्लॉगर अपनी ब्लॉग पोस्ट के मेटा डिस्क्रिप्शन और टाइटल को आकर्षक बनाते है यह White Hat SEO में आ जाता है

Structural Data – यह वेबसाइट या ब्लॉग के कंटेंट को सर्च इंजन बोट्स या क्रॉलर को समझने में सर्च इंजन की मदत करता है इससे आप अपने ब्लॉग पोस्ट की रैंकिंग को बढ़ा सकते है इसलिए यह White Hat SEO में आ जाता है

Keyword Research – क्योकि यह बहुत महत्वपूर्ण पॉइंट है इसलिए इसका उपयोग कर कोई ब्लॉगर अपने नए ब्लॉग को रैंक करने के लिए करता है क्योकि इसके माध्यम से आप अपने ब्लॉग के लिए कम कम्पटीशन वाले कीवर्ड ढूंढ सकते है इसलिए यह White Hat SEO का पार्ट है

White Hat SEO Kya Hai? Black Hate SEO?, Best SEO Technique in Hindi 2022

Link Building – यह वेबसाइट को रैंक करने में अपनी भूमिका निभाता है क्योकि बैकलिंक हर वेबसाइट की ब्लॉग पोस्ट की रैंकिंग बूस्ट करते है यह गूगल को वेबसाइट का कंटेंट अच्छा होने की तरह ईशारा करते है इसलिए यह White Hat SEO का पार्ट है

White Hat vs Black Hat SEO में से कौन ज्यादा इफेक्टिव होता है?

अगर आप ब्लॉग्गिंग लम्बे समय के लिए करना चाहते है तब आपके लिए White Hat SEO बहुत अच्छा है लेकिन अगर आप कम समय में, हम मेहनत में, कम समय के लिए वेबसाइट को सर्च इंजन में रैंक कराकर ट्रैफिक प्राप्त करके पैसे कामना चाहते है 

तब आप Black Hat SEO की तरह जा सकते है लेकिन यह एक गलत तरीका है इससे आपको नुकसान हो सकता है 

Black hat vs White hat SEO के क्या परिणाम होते है?

जब एक बार आप White Hat SEO के अनुसार अपने ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च इंजन गूगल में रैंक करने लगते है उसके बाद आपको कोई दिक्कत नहीं आती है क्योकि यह सर्च इंजन के अल्गोरिथम को ध्यान में रखकर किया जाता है

लेकिन अगर आप Black hat SEO के अनुसार शार्ट तरीके से काम करके अपने ब्लॉग को सर्च इंजन में रैंक करते है तब आपको आगे चलकर पकडे जाने पर penalty भी देनी पढ़ सकती है गूगल ने ऐसे बहुत सारे अपडेट लाए है जिनके कारण वेबसाइट पर बुरा असर पड़ा है

Panda – यह सर्च इंजन गूगल की एक अपडेट है जिसमे गूगल ने केवल हाई क्वालिटी कंटेंट को महत्वपूर्ण बताते हुए सभी लौ क्वालिटी कंटेंट की रैंकिंग को डाउन किया है 

Penguin – यह गूगल ने black hat SEO technique का उपयोग करने वाले ब्लॉग या वेबसाइट को penalized करने के लिए लाया था जिसके अंदर सभी वेबसाइट को bad backlinks हटाने की सलाह दी गई

Negative SEO – इसमें अगर आप नेगेटिव SEO के अंदर कोई ऐसा काम करते है जिससे गलत तरीके से आप अपनी वेबसाइट को लिंक बिल्ड करके रैंक करना चाहते है उनकी रैंकिंग को डाउन किया था 

FAQ

Black Hat SEO क्या है?

“ब्लैक हैट SEO” में  ब्लॉगर अपने ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च इंजन गूगल में रैंक करने के लिए सर्च इंजन की Guideline का पालन नहीं करते है इसमें भी हर वेबसाइट या ब्लॉग का उद्देश्य सर्च इंजन में रैंक ब्लॉग रैंक करके ब्लॉग पर ट्रैफिक प्राप्त करना है

ब्लैक हैट एसईओ का उदाहरण क्या है?

अगर कोई वेबसाइट या ब्लॉग सर्च इंजन में डोरवे पेज, कीवर्ड स्टफिंग, पेज स्वैपिंग, स्पैम इंडेक्सिंग, डुप्लीकेट कंटेंट, स्पिन कंटेंट, पेड ट्रैफिक, पेड लिंक बिल्डिंग, हिडन लिंक, हिडन टेक्स्ट के रूप में कीवर्ड का उपयोग, स्पैम कमेंट आदि

यह सभी तरीको का उपयोग करके वेबसाइट या ब्लॉग को सर्च इंजन में रैंक करने वाली वेबसाइट बालक हैट SEO का उदहारण होती है

Grey Hat SEO क्या है?

“ग्रे हैट SEO” के अंदर ब्लॉगर वाइट हैट और ब्लैक हैट SEO दोनों को करते है लेकिन इसमें ब्लैक हैट SEO की तुलना में वाइट हैट SEO को किया जाता है अगर आप इसमें 95% White Hat SEO का उपयोग करते है तब आप 5% Black Hat SEO का उपयोग करते है

White hat SEO क्या है?

“वाइट हैट SEO” में सभी ब्लॉगर अपने ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च इंजन गूगल में रैंक करने के लिए सर्च इंजन की Guideline का पालन करते है इसमें हर वेबसाइट या ब्लॉग का उद्देश्य सर्च इंजन में रैंक ब्लॉग रैंक करके ब्लॉग पर ट्रैफिक प्राप्त करना है

वाइट हैट और ब्लैक हैट इन SEO क्या है?

“वाइट हैट SEO” में सभी ब्लॉगर अपने ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च इंजन गूगल में रैंक करने के लिए सर्च इंजन की Guideline का पालन करते है इसमें हर वेबसाइट या ब्लॉग का उद्देश्य सर्च इंजन में रैंक ब्लॉग रैंक करके ब्लॉग पर ट्रैफिक प्राप्त करना है जबकि

“ब्लैक हैट SEO” में  ब्लॉगर अपने ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च इंजन गूगल में रैंक करने के लिए सर्च इंजन की Guideline का पालन नहीं करते है इसमें भी हर वेबसाइट या ब्लॉग का उद्देश्य सर्च इंजन में रैंक ब्लॉग रैंक करके ब्लॉग पर ट्रैफिक प्राप्त करना है

क्या मै किसी अन्य वेबसाइट से कंटेंट को प्रतिलिपि कर सकता हूं?

नहीं आप ऐसा नहीं कर सकते है क्योकि यह किसी और वेबसाइट के कंटेंट को कॉपी करके अपने ब्लॉग पर पेस्ट करना है ऐसे में आप किसी और वेबसाइट के कंटेंट को अपने ब्लॉग पर पब्लिश करके सर्च इंजन में रैंक करना चाहते है जोकि ब्लैक हैट SEO के अंदर आ जाता है

क्या बिना ब्लैक हैट एसईओ तकनीक के गूगल पर रैंक किया जा सकता है

हाँ, यह बिल्कुल संभव है आप सभी वाइट हैट SEO की तकनीक को फॉलो करके अपने ब्लॉग को गूगल में रैंक करा सकते है

ब्लैक हैट एसईओ तकनीकों का उपयोग क्यों नहीं किया जाना चाहिए?

ब्लैक हैट SEO तकनीक का उपयोग करने के बाद वेबसाइट की रैंकिंग सर्च इंजन डाउन कर सकता है ऐसे में सर्च इंजन के द्वारा ब्लॉग या वेबसाइट को Ban, ब्लॉक और penalized जैसे कदम भी उठाये जा सकते है

आपने क्या सीखा?

आज मैंने आपको White Hat SEO Kya Hai, SEO कितने तरीको के होते है, वाइट हैट SEO क्या है हिंदी में, ब्लैक हैट SEO क्या है हिंदी में, ग्रे हैट SEO क्या है हिंदी में, ब्लैक हैट SEO के फायदे क्या है, ब्लैक हैट SEO के नुकसान क्या है, ब्लैक हैट SEO तकनीक,

वाइट हैट SEO तकनीक, White Hat vs Black Hat SEO में से कौन ज्यादा इफेक्टिव होता है, Black hat vs White hat SEO के क्या परिणाम होते है आदि के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी है

मुझे उमीद है कि आप सभी को “White Hat vs Black Hat SEO” के बारे में सब कुछ समझ आ गया होगा फिर भी अगर आपका कुछ सवाल है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में मुझसे पूछ सकते है साथ ही आर्टिकल को शेयर जरुर करे

Credit By = itznitinsoni


Spread the love

Leave a Comment