Google Aasman Mein Kitne Taare Hain? ( रहस्यमय तथ्य ) Best Guide 2024

Google Aasman Mein Kitne Taare Hain? 2024 में समझें रहस्यमय तथ्य

Google Aasman Mein Kitne Taare Hain: – आसमान में कितने तारे हैं? क्या आपको मालूम है? हाँ, भाई यह सच है कि एक आम व्यक्ति के लिए पुरे आसमान के तारों को गिनना एक मुश्किल काम होता है लेकिन इसके ऊपर कुछ विशेष रिसर्च किये गए है

लगभग हर व्यक्ति के मन में यह इच्छा होती है कि वह आकाश में कितने तारे हैं? यह समझे? परन्तु, इस दौरान रात होने के समय लोग अपने घरों के छत पर से तारों को गिनना शुरू करतें है हाँ, भाई कपल्स के बीच में यह पल रोमांटिक हो सकता है लेकिन रात में बिल्कुल शांत वातावरण के दौरान,

छत पर जाकर आसामन के तारों को गिनना बहुत अच्छा लगता है लेकिन आमतौर पर कोई मनुष्य केवल कुछ तारों को गिनता हुआ अपनी गिनती को शुरू करता है परन्तु अगर आप अपनी छत से कुछ तारों की गिनती कर लेतें है तो आप भारत में कितने तारे हैं? इसका पता नहीं लगा सकतें है

हाँ, मैं मान लेता हूँ कि कुछ लोग अपने घर की छत परजाकर वहां से कुछ टिमटिमाते हुए तारों को गिनने के बाद, यह निर्णय लेने के लिए कह देतें है कि वह पुरी भारत में कितने तारे हैं? यह गिन सकतें है

Google Aasman Mein Kitne Taare Hain? ( रहस्यमय तथ्य ) Best Guide 2024

लेकिन अब यहाँ सवाल यह उठता है कि पुरी दुनिया में कितने तारे है? ( Duniya Mein Kitne Taare Hain? ), तारे कितने हैं?

क्या आप यह गिन सकतें है हाँ, भाई यह काम बहुत मुश्किल हो जाता है ऐसे में अगर कोई मनुष्य पुरी दुनिया के तारों की गिनती करना चाहता है तो इस दौरान, उस मनुष्य को पुरी दुनिया में जाकर गिनती करनी होगी क्योकि तभी आपको पता चल सकता है कि आखिर तारे कितने हैं?

हाँ भाई कुछ लोगो को तारों के साइज़ पर शक होता है जिसके कारण वह गूगल में यह खोजतें है कि तारे कितने बड़े होते हैं? हाँ, इस लेख में हम इसके ऊपर भी चर्चा करेंगे चलिए पहले हम यह जान लेतें है कि गूगल आसमान में कितने तारे हैं?

क्या टेलीस्कोप से आसमान में कितने तारे हैं? पता किया जा सकता है?

Table of Contents

जब हम आसमान से तारों को गिनने के बारें में बात करतें है तो इस दौरान हम यह सोचतें है कि दूर देखने वाले यंत्र से हम आसमान में कितने तारे हैं? यह जान सकतें है लेकिन भाई, ऐसा नहीं है क्योकि आसमान में सितारों की गिनती टेलीस्कोप से करना असंभव होता है

लेकिन ब्रमांड के बारें में प्राप्त जानकारी को हासिल करना मुख्य रूप से वैज्ञानिको के द्वारा संभव है कहा जाता है कि आकाश में अरबों तारें ( सितारे ) है

मेरी छत पर कितने तारें है?

मुख्य रूप से मेरे घर की छत पर बहुत सारें तारें है परन्तु जब हमने उनकी संख्या का पता करने के लिए, अपने घर की छत पर जाकर गिनती करना शुरू किया तब हमें यह पता चला कि हमारे घर की छत पर जाकर देखने से हमें तारों की संखिया 19 हजार, 2 सौ, 84 थी

Google Aasman Mein Kitne Taare Hain? ( रहस्यमय तथ्य ) Best Guide 2024

हाँ, यह लगभग में हो सकती है परन्तु आप सोच सकतें है कि जब भारत में किसी एक घर की छत पर रात में तारों को गिनने पर उनकी संख्या 19284 आ रही है तो ऐसे में सम्पूर्ण भारत में कितने सारे तारें रात में दिखाई देतें होंगे

तारे किसे कहतें है? और कैसे बनता है?

जिन खगोलीय पिंडों के लिए अपना प्रकाश और उष्मा होती है वह तारें कहलातें है क्योकि कहा जाता है कि ब्रह्मांड में घुल कणों और H2, जब एक दुसरे के साथ टकरातें है तब ऐसी स्थिति के दौरान, तारों का निर्माण ( जन्म ) होता है लेकिन आकाश में, अगर तारें न हो तो वह हमें बहुत सूना लगने लगता है

परन्तु यह बिल्कुल सच है कि इंसानों की तरह तारों का मरना भी तय होता है परन्तु किसी तारें का मरने का कारण गुरुत्वाकर्षण बल के कारण, तारें के कोर के तापमान का बढ़ जाना होता है क्योकि ऐसा होने पर उस तारें की मृत्यु कुछ समय बाद, हो जाती है

अथार्थ साधारण भाषा में हम यह कह सकतें है कि किसी तारें ( स्टार ) का मरना उसके द्रव्यमान पर होता है यही कारण होता है कि छोटे तारें अधिक जीवित रहतें है परन्तु बड़े तारें कम जीवित रहतें है हाँ, किसी एक तारे के लिए कोई साइज़ और वजन निश्चित नहीं होता है

लेकिन तारों की उम्र बहुत अधिक होती है उदहारण के लिए, हम समझ सकतें है कि सूरज ( सूर्य ) एक तारा है इस तारें की उम्र लगभग 4.6 अरब वर्ष हो सकती है लेकिन रिसर्च के मुताबिक, सूरज भविष्य में लगभग 5 अरब वर्षों तक अभी और ज़िंदा रहेगा

Google Aasman Mein Kitne Taare Hain? ( Aasman Mein Kitne Taare Hote Hain? )

मुख्य रूप से, पुरी ब्रम्हांड में रिसर्च के अनुसार, लगभग 10 हजार ( करोड़ ) आकाशगंगाएं होने का अनुमान है ऐसे में प्रत्येक आकाशगंगाएं में लगभग 20 हजार ( करोड़ ) से अधिक तारें होतें है परन्तु जो हमारा सौरमंडल मिल्की वे आकाशगंगाएं के अंदर है जिसका साइज़ (Radius) 52,850

प्रकाश वर्ष हो सकता है ऐसे में जिन लोगो का यह सवाल होता है कि आकाश में कितने तारे हैं? ( आसमान में कितने तारे हैं? ) वह यह समझ सकतें है कि सम्पूर्ण आकाश में लगभग 400 अरब से अधिक तारें मौजूद है

परन्तु कुछ लोग दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल यह पूछने लगते हैं कि Google Aasman Mein Kitne Taare Hain? ( गूगल आसमान में कितने तारे हैं? )

तब गूगल हमें यह बताता है कि ब्रम्हांड में लगभग 10 हजार ( करोड़ ) आकाशगंगाएं होने का अनुमान है ऐसे में प्रत्येक आकाशगंगाएं में लगभग 20 हजार ( करोड़ ) से अधिक तारें होतें है

लेकिन जब हमने अपने सवाल को हिंदी भाषा में कुछ इस तरह से पूछा कि आकाश में कितने तारे हैं? ( आसमान में कितने तारे हैं? )

यब भी, गूगल ने हमें यह उत्तर दिया कि ब्रम्हांड में लगभग 10 हजार ( करोड़ ) आकाशगंगाएं होने का अनुमान है ऐसे में प्रत्येक आकाशगंगाएं में लगभग 20 हजार ( करोड़ ) से अधिक तारें होतें है

Duniya Mein Kitne Taare Hain? ( दुनिया में कितने तारे हैं? )

हम सब जानतें है कि प्रथ्वी पर तारों की संख्या असीमित होती है ऐसे में हम यह बोल सकतें है कि पुरी दुनिया में तारों की संख्या बहुत अधिक होती है क्योकि पुरी दुनिया प्रथ्वी पर स्थित है ऐसे में हमारी प्रथ्वी से तारों की दूरी 40 हजार ( किलोमीटर ) से बहुत अधिक होती है

लेकिन हम पुरी दुनिया में तारों की संख्या को 200 अरब से अधिक मान सकतें है क्योकि रिसर्च के अनुसार, प्रथ्वी से आकाश में लगभग 200 अरबों से अधिक तारें मौजूद है

Tara Kitna Bada Hota Hai? ( तारे कितने बड़े होते हैं ? )

कुछ लोगो के मन में यह सवाल तारों से सम्बंधित रहता है कि तारे कितने बड़े होते हैं? ( Tara Kitna Bada Hota Hai? ) परन्तु भाई, किसी एक तारें के लिए उसका साइज़ और वजन कोई निश्चित नहीं होता है अथार्थ साधारण भाषा में कहा जाए,

Google Aasman Mein Kitne Taare Hain? ( रहस्यमय तथ्य ) Best Guide 2024

तो किसी एक तारें के लिए उसका वजह और साइज़ ( कि वह कितना बड़ा है ) वह निश्चित नहीं होता है हाँ, अगर कोई तारा अधिक बड़ा है तो उसका जीवनकाल बहुत कम होगा लेकिन एक छोटा तारा अधिक जीवनकाल के साथ जीवित रहता है

भारत में कितने तारे हैं? ( India Mein Kitne Taare Hain? )

आसमान ( आकाश ) में तारों की संख्या रोजाना बढ़ती है ऐसी स्थिति में आसमान में तारों की गिनती करना बहुत मुश्किल होता है लेकिन अगर हम एक अनुमान ( रिसर्च ) पर बातें करें तो भारत में कुल तारों की संख्या कई अरबों है क्योकि अगर हम प्रथ्वी पर तारों की संख्या 200 अरब से अधिक माने तो,

हमारी रिसर्च के मुताबिक भारत देश के आसमान में कुल तारों की संख्या लगभग 31 अरब से अधिक तारें होंगें क्योकि भारत का एरिया लगभग 3.287 million km² है लेकिन सम्पूर्ण दुनिया का एरिया 19.7 करोड़ वर्ग मील है ऐसे में हमारे पुरे विश्व में लगभग 193 देश है

इस दौरान दुनिया के प्रत्येक 1020725 वर्ग मील जगह पर कुल 103.626943005 अरब तारें होने का अनुमान है ऐसे में आप देख सकतें है कि हमारे भारत में एरिया 3.287 million km² होने के कारण तारों की कुल संख्या होने का अनुमान 31.52629845 अरब से अधिक है 

सूरज बड़ा है या तारा? क्या लगता हैं?

हम सब जानतें है कि सूरज भी एक तारा है लेकिन इसके बहुत गर्मी होती है कई बार, जो तारें आसमान में हमें दिखाई देतें है वह सूरज ( सूर्य ) से कई गुणा अधिक बड़े हो सकतें है, कुछ तारों में सूर्य से अधिक चमक हमें दिखाई देती है ऐसे में आप यह कह सकतें है कि तारें और सूर्य में सबसे बड़ा तारा होता है

लेकिन यह भी सच्चाई है कि यह सूरज भी एक तरह से तारा होता है परन्तु इसमें बहुत अधिक गर्मी पाई जाती है यही कारण होता है कि सूरज पर जाना मुश्किल होता है क्योकि वह इतना गर्म है कि उसके पास जाने पर मनुष्य जल जाता है लेकिनं रिसर्च के अनुसार,

Google Aasman Mein Kitne Taare Hain? ( रहस्यमय तथ्य ) Best Guide 2024

आकाश में स्थिति बेटेलगेउसे ( तारें ) का वजन सूर्य से लगभग 20 और साइज़ एक हजार गुणा ज्यादा है इनफार्मेशन के लिए, मैं आपको बता देता हूँ कि दुनिया का सबसे बड़ा तारा ( स्टार ) वी वाई कैनीस मजोरिस खुद सूर्य से साइज़ में, लगभग 1800 गुणा ज्यादा बड़ा है

कुछ लोग और विशेषज्ञ उस बड़े तारें के सामने सूरज ( सूर्य ) को एक छोटा मछछर समझतें है परन्तु, यह भी एक सच्चाई है कि कोई तारा जितना अधिक साइज़ में बड़ा होता है वह उतना कम समय तक जीवित रहता है सूरज ( सूर्य ) तारें की उम्र लगभग 4.6 अरब वर्ष हो सकती है

लेकिन रिसर्च के मुताबिक, सूरज भविष्य में लगभग 5 अरब वर्षों तक अभी और ज़िंदा रहेगा

बड़े तारें छोटे तारों की तुलना में जल्द क्यों मारतें है?

जब हम तारों के विषय को अच्छे से समझतें है तो ऐसी स्थिति के दौरान, हमें पता चलता है कि कोई तारा जितना अधिक साइज़ में बड़ा होता है वह उतना कम समय तक जीवित रहता है क्योकि आकाश में हमें बहुत सारे गैस मिलती है

ऐसे में तारों के लिए हाइड्रोजन गैस सही नहीं होती है क्योकि जो तारें हाइड्रोजन गैस को ग्रहण करतें है तो वह जल्द मर जातें है इसीलिए आकाश में बड़े तारें अधिक हाइड्रोजन गैस ग्रहण करने के कारण, छोटे तारों की तुलना में जल्द मर जातें है

आसमान में तारे क्यों टिमटिमाते हैं?

हाँ, यह सच है कि जाब हम तारें को देखतें है तो उस समय वह हमें टिमटिमातें हुए नजर आतें है लेकिन ऐसा मुख्य रूप से इसीलिए होता है क्योकि आकाश ( आसमान ) में तारें सूर्य से दूर पाए जातें है यही कारण होता है कि जिस तरह सूरज का प्रकाश घरती ( प्रथ्वी ) पर देखने को मिलता है या पड़ता है

ठीक उसी तरह तारों का प्रकाश घरती ( प्रथ्वी ) पर बहुत कम पहुचता है यही कारण होता है कि हमे आकाश में तारें टिमटिमातें हुए दिखाई देतें है

दुनिया का सबसे बड़ा तारा कौन सा है? छोटा तारा कौन है?

हमारी रिसर्च के अनुसार दुनिया का सबसे बड़ा तारा ( स्टार ) वी वाई कैनीस मजोरिस है अथार्थ हम यह बोल सकतें है कि वी वाई कैनीस मजोरिस को दुनिया में सबसे बड़ा तारा कहतें है परन्तु अगर हम पुरें ब्रम्हांड में सबसे बड़े तारे को देखें तो यह Stephenson 2-18 होगा साधारण भाषा में कहा जाए तो,

यह विशाल तारा हमारे सूर्य से लगभग 10 बिलियन गुना अधिक बड़ा है अब आप यह अंदाजा लगा सकतें है कि यह कितना बड़ा होगा परन्तु, हम सबसे बड़ा तारा वी वाई कैनीस मजोरिस को ही कहतें है जिसका साइज़ मुख्य रूप से हमारे सूरज ( सूर्य ) के मुकाबलें,

2 हजार गुना अधिक बड़ा और व्यास 2 अरब ( किलोमीटर ) है परन्तु इस तारें की उम्र, सूरज से कम 240 मिलियन है हमारी प्रथ्वी से इस सबसे बड़े तारें की दूरी लगभग 4900 प्रकाश वर्ष दूर है ऐसे में सबसे अधिक छोटा तारा इबीएलएम जे0555-57एबी’ (EBLM J0555-57Ab) है

हमारे सबसे बड़े तारें वी वाई कैनीस मजोरिस से इस सबसे छोटे तारे की दूरी लगभग 600 प्रकाश वर्ष दूर है लेकिन उसका रेडियस 59000 किलोमीटर है साधारण भाषा में बताया जाए तो यह दुनिया का सबसे छोटा तारा हमारे शनि गृह से बस थोडा सा बड़ा है

Read More Articles: – 

FAQ

सूर्य के अंदर क्या होता है?

मुख्य रूप से सूर्य के अंदर गर्मी का होना स्वभाविक है हाँ, परन्तु विज्ञान और वैज्ञानिको के अनुसार, सूर्य के अंदर, कई तरह की गैस ( हीलियम, हाइड्रोजन आदि ) पाई जाती है साइज़ के मामलें में सूर्य लगभग 13 हजार, 19 हजार किलोमीटर होगा

अब कुछ लोग यहाँ यह समझ रहें होंगे कि यह सूर्य तो प्रथ्वी से बहुत बड़ा होता है हाँ, भाई ऐसा ही है

अंतरिक्ष में कितने तारे हैं?

पुरी अंतरिक्ष में 400 अरबों से अधिक तारें होतें है

प्रथ्वी से आकाश में कितने तारे हैं?

प्रथ्वी से आकाश में लगभग 200 अरबों से अधिक तारें उपलब्ध है अथार्थ हम यह कह सकतें है कि सम्पूर्ण ब्रम्हांड में तारों की संख्या 200 अरबों से अधिक है कुछ रिसर्च में, या कहा गया है कि ब्रम्हांड में आकाशगंगाएं की संख्या 10 हजार करोड़ बताई जाती है

आकाश में एक तारा कितना है?

अगर आसमान ( आकाश ) में कोई एक तारा है तो यहाँ आपको यह समझना होगा कि उस तारें की संख्या हमेशा एक ही रहगी ऐसे में तारों की कीमत का अनुमान हम नहीं लगा सकतें है

टूटता तारा कब दिखाई देता है?

वैज्ञानिकों के अनुसार, जब स्पेस ( अन्तरिक्ष ) में कोई एक चीज ( meteoroids ) घुमती हुए धरती में इंटर करती है तो धरती ( प्रथ्वी ) में ग्रेविटी होने के कारण, उसको अपनी तरह खीचती है ऐसे में जब हवा ( वायु ) के फ्रिक्शन के कारण वह चीज ( meteoroids ) गर्म होकर तेज रौशनी दिखाती है

इस स्थिति को हम लोग टूटता हुआ तारा कहतें है लेकिन कोई तारा बहुत अधिक समय पर टूटता है

रात में तारे क्या करते हैं?

हम सब जानतें है कि रात और दिन दोनों के समय में यह तारें हमेशा आसमान में रहतें है परन्तु दिन के उजालें के कारण अधिक कम चमकने वाले तारें हमें दिखाई नहीं देतें है यही कारण होता है कि जब रात में हम आसमान में देखतें है तो रात में अधेरा होने के कारण, हमें तारें चमकते हुए दिखाई देतें है

दिन में तारे कहाँ जाते हैं?

नहीं, दिन में तारें हमारे ऊपर आकाश से कही नहीं जातें है परन्तु दिन में अधिक रौशनी होने के कारण, हम ऊपर आसमान में तारों को नहीं देख सकतें है यह हम इसें ऐसे भी कह सकतें है कि दिन में सूर्य का प्रकाश पुरी असामन में फैला होने के कारण, तारों की रौशनी हमें नहीं दिखाई देती है

यही कारण होता है कि जब रात के समय आकाश में अँधेरा होता है तब हमें तारों की चमकती हुए रौशनी के कारण तारें दिखाई देतें है

गिरने वाले तारे क्यों गिरते हैं?

जब स्पेस ( अन्तरिक्ष ) में कोई, चट्टान के छोटे टुकडें या धुल घरती ( प्रथ्वी ) में गिरतें है तो यहाँ धरती पर वायुमंडल में ग्रेविटी की वजह से, उसको तेजी से अपनी तरफ खीचता है ऐसे में गिरने पर वह जलने के कारण तेज रोशनी दिखाई देती है ऐसे में हमें टूटता तारा दिखता है

क्या तारे आसमान में चलते हैं?

हाँ, यह पुरी तरह से सच है कि तारें अपने पथ पर लगातार चलतें रहतें है

टूटे तारे से क्या होता है?

पहले के लोग यह अधिक मानतें थे कि जब आप किसी टूटे हुए तारे को देखते है तो आपको अपने मन की इच्छा को मन में कहना चाहिए क्योकि ऐसा करने से आपकी इच्छा हमेशा पुरी होती है परन्तु हम सब जानतें है कि विज्ञान और वैज्ञानिको, ऐसे तथ्यों को स्वीकार नहीं करतें है

क्या तारा प्रथ्वी पर गिरता है?

नहीं, ऐसा होना संभव नहीं है क्योकि ब्रह्मांड के अंदर कोई चीज खुद से बड़ी किसी अन्य वस्तु/चीज पर गिर सकती है हम इसका उलटा नहीं कर सकतें है यही कारण होता है कि कोई तारा प्रथ्वी पर नहीं गिरता है

आपने क्या सीखा

इस लेख में हमने मुख्य रूप से तारों की संख्या के बारे में इन्टरनेट उपयोगकर्ताओ को बताया है क्योकि हम सभी के मन में यह सवाल होता है कि आसमान में कितने तारे हैं? लेकिन इस लेख को पढ़कर आपको तारों के बारे में बहुत कुछ उपयोगी इनफार्मेशन पढने को मिलेगी

मुझे उमीद है कि आप सभी को Google Aasman Mein Kitne Taare Hain? के बारे में सब कुछ समझ आ गया होगा फिर भी अगर आपका कुछ सवाल है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में मुझसे पूछ सकते है

Credit By =itznitinsoni

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top