Link Juice Kya Hai in Hindi? Link Juice Best Complete Guide 2022

Spread the love

Link Juice Kya Hai in Hindi:-  आज हम Link Juice Kya Hai, लिंक जूस कितने प्रकार के होते है?, कैसे लिंक जूस की वैल्यू सबसे अधिक होगी?, लिंक जूस SEO में कैसे काम करता है?, क्या ज्यादा लिंक जूस से अधिक वैल्यू मिलेगी?, Link Juice Kaise Banate Hai?, लिंक जूस कैसे चेक करना चाहिए?, लिंक जूस बनाते समय किन बातो का रखे ध्यान?, No Follow Link Juice Kaise Check Kare? आदि के बारे में बात करेंगे –

आ गए सारे नए ब्लॉगर? वेबसाइट को रैंक कराने में लिंक जूस का रोल होता है हम जब Backlink के बारे में बात करते है तब इस लिंक जूस का जीकर जरुर होता है

Link Juice Kya Hai in Hindi? Link Juice Best Complete Guide 2022

SEO में Backlinks जरुरी होते है और यह वेबसाइट को रैंक कराने में एक SEO फैक्ट होता है आज हम लिंक जूस क्या है? लिंक जूस कैसे मिलता है सभी चीजो के बारे में जानेंगे

जब नए ब्लॉगर ब्लॉग्गिंग शुरू करते है तब वह चाहते है कि वह ब्लॉग्गिंग से अच्छे पैसे कमाए लेकिन जब उन्हें सही तरह से चीजो की समझ नहीं होती है तब वह ब्लॉग्गिंग में घूमते रहते है और कभी भी सफल नहीं हो पाते है

हर ब्लॉगर अपनी पोस्ट को रैंक कराना चाहता है और सर्च इंजन से ज्यादा से ज्यादा Organic Traffic लाना चाहता है आज में सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन में लिंक जूस का पूरा रोल आपको बताऊंगा लेकिन आपको भी यहाँ बाकि ब्लॉगर की तरह मेहनत करनी होगी

Link Juice Kya Hai in Hindi? | What is Link Juice in Hindi

Link Juice” किसी भी वेबसाइट को Do Follow Quality Backlinks से मिलने वाली वैल्यू लिंक जूस कहलाती है SEO में बैकलिंक बहुत जरुरी है क्योकि यह वेबसाइट को वैल्यू देते है जिससे सर्च इंजन में आपकी वेबसाइट की रैंकिंग बढती है

जब आप कंटेंट लिखते है और उसमे External Linking के माध्यम से किसी दूसरी वेबसाइट का लिंक Do Follow Tag के साथ Add करते है तब उस दूसरी वेबसाइट को आपकी वेबसाइट से लिंक जूस पास होता है जिससे आपकी वेबसाइट की अथॉरिटी वैल्यू उस वेबसाइट को वैल्यू देती है

Note – सिर्फ Do Follow Quality बैकलिंक से ही लिंक जूस के द्वारा वैल्यू पास होती है No Follow बैकलिंक से लिंक जूस नहीं पास होता है

लिंक जूस कितने प्रकार के होते है?

लिंक जूस मुख्य रूप से केवल दो प्रकार के होते है जैसे – Internal Link Juice और External Link Juice.

Internal Link Juice ( इंटरनल लिंक जूस ) – “Internal Linking” जब आप अपनी वेबसाइट के एक वेब पेज में बाकि वेब पेज को Do Follow Tag के साथ लिंक करते है तो उससे पास होने वाली वैल्यू Internal Linking Link Juice कहलाती है अपने वेब पेज की वैल्यू को बढ़ने का यह एक अच्छा तरीका है

External Link Juice ( external link juice ) – “External Linking” जब आप अपनी वेबसाइट के एक वेब पेज में दूसरी वेबसाइट के वेब पेज को Do Follow Tag के साथ लिंक करते है तो उससे होने वाली वैल्यू External Linking Link Juice कहलाती है

External Link और Backlink में क्या अंतर है?

जब आप अपनी वेबसाइट जिसका नाम A है उस पर किसी वेबसाइट जिसका नाम B का का लिंक Do Follow Tag के साथ लगा देते है तब यह A नाम वाली वेबसाइट के लिए एक एक्सटर्नल लिंक है

Link Juice Kya Hai in Hindi? Link Juice Best Complete Guide 2022

लेकिन यह B नाम वाली वेबसाइट के लिए यह एक High Quality Do Follow Backlink है जिसके द्वारा A नाम वाली वेबसाइट की अथॉरिटी का लिंक जूस B नाम वाली वेबसाइट के पास जा रहा है

कैसे लिंक जूस की वैल्यू सबसे अधिक होगी?

किस लिंक जूस की वैल्यू अधिक या कम होती है यह जानने के लिए नीचे बताये पॉइंट को ध्यान से पढ़े? –

  • अगर आपकी वेबसाइट या ब्लॉग को किसी दूसरी वेबसाइट या ब्लॉग के होम पेज पर लिंक मिलता है ऐसे लिंक की वैल्यू सबसे ज्यादा होती है
  • अगर आपकी वेबसाइट या ब्लॉग को किसी दूसरी वेबसाइट या ब्लॉग के केटेगरी पेज पर लिंक मिलता है ऐसे लिंक की वैल्यू उससे कम होती है
  • अगर आपकी वेबसाइट या ब्लॉग को किसी दूसरी वेबसाइट या ब्लॉग के कंटेंट पेज या ब्लॉग पोस्ट पर लिंक मिलता है ऐसे लिंक की वैल्यू सबसे कम होती है
  • ऐसे ही अगर आपकी वेबसाइट या ब्लॉग को किसी दूसरी वेबसाइट या ब्लॉग के कंटेंट पेज में टॉप पर लिंक मिलता है तब ऐसे लिंक की वैल्यू सबसे अधिक और जैसे जैसे कंटेंट के जितना नीचे आपका लिंक होता जाता है उसकी वैल्यू भी कम होती जाती है
  • अगर आपकी वेबसाइट को एक ही वेबसाइट से ज्यादा लिंक मिल जाता है तब ऐसे लिंक की वैल्यू कम होती है और अगर एक वेबसाइट से एक लिंक मिलता है तब ऐसे लिंक की वैल्यू सबसे अधिक होती है
  • अगर हाई अथॉरिटी वेबसाइट से आपकी वेबसाइट को लिंक मिलते है तब ऐसी वेबसाइट के लिंक की वैल्यू भी अधिक होती है
  • अगर आपकी वेबसाइट को लिंक मिलने वाले वेब पेज को अपडेट किया जाता रहता है तब ऐसे लिंक की वैल्यू भी अधिक होती है अगर वेब पेज अपडेट नहीं होता है तब वैल्यू कम हो जाती है
  • अगर आपकी वेबसाइट को एक्सटर्नल लिंक मिलता है तब उसकी वैल्यू आपकी वेबसाइट के इंटरनल लिंक से अधिक होती है

लिंक जूस SEO में कैसे काम करता है?

लिंक जूस SEO में कंटेंट को हाई वैल्यू पास करता है क्योकि अगर आपकी वेबसाइट के वेब पेज पर दूसरी वेबसाइट के वेब पेज से ज्यादा लिंक जूस वैल्यू पास है

तब सर्च इंजन आपके वेब पेज के कंटेंट को ज्यादा वैल्यू कंटेंट मानता है High कम्पटीशन वाले Keywords पर वेब पेज को रैंक करने के लिए लिंक जूस वैल्यू की जरुरत पड़ती है

Example – मान लेते है कि कोई दो वेबसाइट है जोकि एक ही Blogging Niche पर काम करती है साथ ही दोनों वेबसाइट का On Page SEO भी सही है

जिनमे एक वेबसाइट का नाम A है और दूसरी वेबसाइट का नाम B है अब दोनों वेबसाइट ने एक ही टॉपिक या कीवर्ड पर अपना अपना कंटेंट लिखा है जोकि सर्च इंजन में अलग अलग पोजीशन में रैंक कर रहा है

Link Juice Kya Hai in Hindi? Link Juice Best Complete Guide 2022

अब मान लेते है अगर A नाम वाली वेबसाइट ने अपने उस कंटेंट वाले वेब पेज में कई लिंक जूस वैल्यू को पास कराया है अब सर्च इंजन उस वेबसाइट के कंटेंट को सबसे ज्यादा वैल्यू कंटेंट मानेगा साथ ही अच्छी से अच्छी रैंकिंग भी देता है

Note – आपका लिंक में Do Follow Tag का होना जरुरी होता है तभी आपकी वेबसाइट में लिंक जूस पास होगा

क्या ज्यादा लिंक जूस से अधिक वैल्यू मिलेगी?

नहीं ऐसा नहीं होता है अगर आप दो ज्यादा हाई अथॉरिटी वेबसाइट से लिंक ले लेते है और इसकी तुलना आप कम अथॉरिटी वाली 4 साईट से करते है तब यह बराबर हो जाता है

Example –  मान लेते है हमारे पास दो वेबसाइट है जिसमे एक का नाम A है और दूसरी का B है अब अगर A नाम वाली वेबसाइट ने 4 हाई अथॉरिटी 100 वाली वेबसाइट से 4 Do Follow Backlink लिए है और B नाम वाली वेबसाइट ने कम अथॉरिटी 25 वाली वेबसाइट से 8 Do Follow Backlink लिए है

तब ऐसे में A नाम वाली वेबसाइट को लिंक जूस के माध्यम से ज्यादा वैल्यू पास होगी क्योकि उसके पास 100 अथॉरिटी वाली वेबसाइट के 4 BACKLINK मोजूद है जोकि ज्यादा Quality वाले Backlink है

Note – Backlinks की क्वालिटी सबसे ज्यादा लिंक जूस वैल्यू पास करती है

Link Juice Kaise Banate Hai? | लिंक जूस कैसे बनाते हैं

लिंक जूस को बनाने के मुख्य तीन तरीके है

  1. Direct Link Building
  2. Indirect Link Building
  3. Internal Linking

Direct Link Building ( डायरेक्ट लिंक बिल्डिंग ) – इन लिंक को हम गेस्ट पोस्ट, आर्टिकल सबमिशन, प्रोफाइल सबमिशन आदि के माध्यम से डायरेक्ट बनाते है लेकिन हमें Do Follow BACKLINK वाली वेबसाइट से ही लिंक बनाने चाहिए

Indirect Link Building ( इनडायरेक्ट लिंक बिल्डिंग ) – इन लिंक को हम नहीं बनाते है जिन वेबसाइट को हमारा कंटेंट अच्छा लगता है वह अपने वेब पेज में हमारी वेबसाइट के लिंक को देती है इससे आपके कंटेंट की रैंकिंग बढती है

Internal Linking ( इंटरनल लिंकिंग ) – यह सबसे आसान तरीका है लिंक जूस पास करने का इससे आप अपनी वेबसाइट के पेज को एक दुसरे से लिंक करते है जिससे सर्च इंजन में आपकी वेबसाइट की रैंकिंग भी बढती है

लिंक जूस कैसे चेक करना चाहिए?

लिंक जूस के लिए आप जिस वेबसाइट से लिंक जूस लेना चाहते है आपको उस वेबसाइट के Quality Backlinks को देखने के बाद उसकी Domain Authority को चेक करना चाहिए जिससे आपको उस वेबसाइट की वैल्यू का पता चल जायेगा

अब आप इस वेबसाइट के वेब पेज की रैंकिंग को भी चेक कर सकते है जिससे आपको उस वेबसाइट पर सर्च इंजन के ट्रस्ट का भी पता चल जाता है आजकल गूगल के अलग अलग अल्गोरिध्म वेब पेज की रैंकिंग करते है

DA, PA, Quality Backlinks की जानकारी के लिए आप Websiteseochecker का उपयोग कर सकते है

लिंक जूस बनाते समय किन बातो का रखे ध्यान?

आप जानते है कि गूगल किसी वेब पेज को रैंक करने में कई अल्गोरिध्म का उपयोग करता है लेकिन लिंक जूस बनाते समय आप इन बातो का ध्यान जरुर रखे जैसे –

  • लिंक जूस बनाते समय हमेशा Do Follow Tag का उपयोग करे आप No Follow Tag को ना लगवाए
  • अपने कंटेंट से रिलेटेड कंटेंट से ही लिंक जूस बनाए
  • हाई अथॉरिटी वेबसाइट से ही लिंक जूस बनाए
  • जिस कंटेंट की Crawling Blocked है ऐसे वेब पेज से लिंक जूस का लेन देन नहीं करना चाहिए
  • Redirect वेब पेज से लिंक जूस का लेन देन नहीं करना चाहिए
  • लिंक जूस को हमेशा कंटेंट के टॉप में से लेना चाहिए
  • Website के Sidebar, Footor आदि के लिंक जूस की वैल्यू कम होती है इसीलिए आप ऐसे लिंक जूस को न ले
  • लिंक जूस की Quantity से ज्यादा क्वालिटी पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए
  • लिंक जूस के लिए इंटरनल लिंकिंग का उपयोग जरुर करे

No Follow Link Juice Kaise Check Kare?

इसके लिए आपको सबसे पहले अपने लिंक वाले वेब पेज या वेबसाइट को ओपन कर लेना है इसके बाद आपको अपने लिंक पर Mouse को ले जाकर Right Click करना है

इसके बाद आपको Inspect Element के आप्शन पर क्लिक करना है इसके बाद आपको इस लिंक के Source Code में No Follow का टैग ( rel=”nofollow” ) लिंक में दिखाई देगा

Backlink Kaise Kharide?

इसके लिए आप किसी भी वेबसाइट से डायरेक्ट कांटेक्ट कर सकते है क्योकि लगभग सभी फेमस वेबसाइट आपको अपनी वेबसाइट से कुछ पैसे लेकर Backlinks दे देती है

लेकिन आपको बता दू कि गूगल Backlink खरीदने के एकदम खिलाफ होता है इसीलिए Black Hat SEO गूगल हिस्सा है

Backlinks को खरिदना एक जोखिम भरा काम होता है क्योकि ऐसे तो हर कोई आज Backlinks को खरीद कर आगे बढ़ रहा होता लोग एक हफ्ते में ही अपने लिए 500 या इससे अधिक अच्छे Backlink बना लेते

जैसे Fiverr पर आप Backlinks को खरीद सकते है लेकिन एक Natural तरीके से लिए गए Backlinks ही आपके ब्लॉग पर काम के होते है आप Guest Post को भी अलग अलग साइट्स पर पोस्ट्स कर सकते है और BACKLINKS ले सकते है

FAQ

लिंक जूस क्या होता है?

Link Juice” किसी भी वेबसाइट को Do Follow Quality Backlinks से मिलने वाली वैल्यू लिंक जूस कहलाती है SEO में बैकलिंक बहुत जरुरी है क्योकि यह वेबसाइट को वैल्यू देते है जिससे सर्च इंजन में आपकी वेबसाइट की रैंकिंग बढती है

लिंक जूस के लिए क्या होना जरुरी है?

लिंक जूस के लिए आपके लिंक में Do Follow का टैग होना जरुरी होता है क्योकि No Follow लिंक को गूगल बोट्स वैल्यू लिंक नहीं मानते है

लिंक जूस क्या बताता है?

लिंक जूस वेबसाइट की पॉपुलैरिटी को बताता है जिससे सर्च इंजन का वेबसाइट पर ट्रस्ट बनता है

क्या बैकलिंक्स ज़रूरी हैं ब्लॉग रैंक करने के लिए?

हाँ ब्लॉग के रैंक होने में Backlinks एक फैक्ट होते है लेकिन इसके साथ ही सर्च इंजन गूगल वेब पेज को रैंक करने में और भी 200+ फैक्टर्स चेक करता है

आपने क्या सिखा?

आज मैंने आपको Link Juice Kya Hai in Hindi, लिंक जूस कितने प्रकार के होते है?, कैसे लिंक जूस की वैल्यू सबसे अधिक होगी?, लिंक जूस SEO में कैसे काम करता है?, क्या ज्यादा लिंक जूस से अधिक वैल्यू मिलेगी?, Link Juice Kaise Banate Hai?, लिंक जूस कैसे चेक करना चाहिए?, लिंक जूस बनाते समय किन बातो का रखे ध्यान?, No Follow Link Juice Kaise Check Kare? आदि के बारे में सभी जानकारी दी है

मुझे उमीद है कि आप सभी को “Link Juice” के बारे में सब कुछ समझ आ गया होगा फिर भी अगर आपका कुछ सवाल है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में मुझसे पूछ सकते है साथ ही आर्टिकल को शेयर जरुर करे

Credit By = itznitinsoni


Spread the love

5 thoughts on “Link Juice Kya Hai in Hindi? Link Juice Best Complete Guide 2022”

    • ऐसे में आपकी वेबसाइट को लिंक दी जाने वाली वेबसाइट का लिंक जूस पास नहीं होता है जिससे उस बैकलिंक को सर्च इंजन के क्रॉलर क्रॉल नहीं करते है

      Reply

Leave a Comment