Website Google Me Rank Kyu Nahi Hoti Hai ( 18 Reasons ) Best Guide

Spread the love

Website Google Me Rank Kyu Nahi Hoti Hai: – आ गए सारे नए ब्लॉगर? वेबसाइट रैंक क्यों नहीं हो रही है? क्या आपकी वेबसाइट गूगल में रैंक नहीं होती है आज हम इस विषय पर बात करेंगे वेबसाइट के गूगल में Website Rank Na Hone ke Karan क्या है

नए ब्लॉगर को अपने ब्लॉग को गूगल में रैंक कराने में समय लगता है आप अपने ब्लॉग्गिंग करियर में धीरे धीरे आगे बढ़ते है ऐसा नहीं होता है कि आज ब्लॉग्गिंग शुरू किया और कुछ महीनो में आप एक सफल ब्लॉगर बन गए

Website Google Me Rank Kyu Nahi Hoti Hai ( 18 Reasons ) Best Guide

लेकिन जब आप ब्लॉग्गिंग शुरू करते है तब लगभग 1 से 2 महीने बाद आपकी वेबसाइट गूगल में दिखाई देने लगती है लेकिन इसके लिए आपको गूगल सर्च कंसोल में अपनी वेबसाइट को सबमिट करना पड़ता है

अगर आप अपनी वेबसाइट के गूगल में इंडेक्स होने का पता लगाना चाहते है तब आप गूगल में Site:yourdomainurl डालकर सभी इंडेक्स वेब पेज देख सकते है अगर आप यह सोचते है कि आपने सबकुछ कर लिया है फिर भी आपका ब्लॉग सर्च इंजन गूगल में रैंक नहीं करता है

लेकिन मैं वो सभी चीजों के बारे में बताऊंगा जिनके कारण वेबसाइट रैंक नहीं होती है आपको एक एक करके सभी चीजों को देखना है और अपनी प्रॉब्लम को ढूँढना है अब हम Website Google Me Rank Kyu Nahi Hoti Hai के बारे में जान लेते है

Website Rank Na Hone ke Karan?

Table of Contents

वेबसाइट सर्च इंजन गूगल में रैंक न होने के मुख्य कारण निम्नलिखित होते है जैसे –

  • वेबसाइट में इंडेक्सिंग का इशू होना
  • ब्लॉग की क्रॉलिंग सही प्रकार से न होना
  • वेबसाइट में टेक्निकल इशू का आ जाना
  • कंटेंट का Low क्वालिटी होना
  • हाई क्वालिटी बैकलिंक का न होना
  • हाई कम्पटीशन कीवर्ड पर काम करना
  • वेबसाइट का नया होना
  • ब्लॉग की लोडिंग स्पीड सही न होना
  • वेबसाइट का मोबाइल फ्रेंडली न होना

Website Google Me Rank Kyu Nahi Hoti Hai?

वेबसाइट के गूगल में रैंक न होने के बहुत सारे कारण होते है जैसे –

  • गूगल में आपके ब्लॉग का Index न होना
  • आपकी वेबसाइट का नया होना
  • आपकी वेबसाइट या कंटेंट में No Index का मेटा टैग लगा होना
  • ब्लॉग पोस्ट में Competitive Keyword का उपयोग करना
  • वेबसाइट की Robots.txt फाइल के माध्यम से गूगल को ब्लॉक कर देना
  • ब्लॉग पर क्वालिटी कंटेंट पब्लिश न होना
  • ब्लॉग पर कंटेंट अच्छा है लेकिन कम्पटीशन ज्यादा है
  • वेबसाइट पर डुप्लीकेट कंटेंट होना
  • वेबसाइट पर क्रॉलिंग Error का होना
  • वेबसाइट के Silo Structure को सही करे
  • ब्लॉग में इंटरनल लिंकिंग सही प्रकार से न होना
  • ब्लॉग पर Quality बकलिंक का न होना
  • वेबसाइट पर बैकलिंक का Loss हो जाना
  • वर्डप्रेस ब्लॉग की Visibility Settings जाँच करें
  • वेबसाइट का मोबाइल फ्रेंडली न होना
  • वेबसाइट के कंटेंट को सही प्रकार से ऑप्टिमाइज़ न करना
  • ब्लॉग की लोडिंग स्पीड ख़राब होना
  • सर्च इंजन गूगल के अल्गोरिथम बदलना

गूगल में आपके ब्लॉग का Index न होना

जब आप ब्लॉग्गिंग के लिए नई वेबसाइट बनाते है तब उसको गूगल में इंडेक्स होने में कुछ सप्ताह का समय लग जाता है क्योकि नई वेबसाइट में इंटरनल लिंक्स नहीं होते है क्योकि इंटरनल लिंक के होने से सर्च इंजन गूगल आपकी वेबसाइट को जल्द से जल्द इंडेक्स करता है

अगर ऐसा नहीं है तब आपको इसके लिए कुछ सप्ताह का इंतजार करना पड़ेगा इसके साथ आपने ब्लॉग को जल्द इंडेक्स करने के लिए आप उसको गूगल सर्च कंसोल में अपनी वेबसाइट का Sitemap सबमिट कर देना है

ऐसा करने से आपकी वेबसाइट को जल्द इंडेक्स किया जाता है कुछ समय बाद आप Site:yourdomainname लिखकर गूगल में सर्च करके अपनी वेबसाइट के सभी Index वेब पेज देख सकते है

Website Google Me Rank Kyu Nahi Hoti Hai ( 18 Reasons ) Best Guide

अगर यहाँ पर आपको रिजल्ट शो नहीं हो रहे है या तो आपकी वेबसाइट अभी नई है और इंडेक्स नहीं हुई है या आपकी वेबसाइट पर गूगल पेनल्टी लगी हुई है एक बार यह चेक करे कि क्या आपने वेबसाइट बनाते समय Indexing Disable तो नहीं कर दी है

Note – सर्च इंजन बोट्स/क्रॉलर वेबसाइट को इंडेक्स करने के लिए इंटरनल लिंक का इस्तेमाल करते है 

आपकी वेबसाइट का नया होना

आपको यह समझना होगा कि नई वेबसाइट को गूगल में दिखने में लगभग कुछ सप्ताह का समय लगता है और नई वेबसाइट को सर्च इंजन गूगल में रैंक होने में लगभग 6 से 12 महीने या इससे ज्यादा का समय लग सकता है

आपको अपने ब्लॉग्गिंग करियर को समय देने की जरुरत है ऐसे में अपनी नई ब्लॉग पोस्ट को सर्च इंजन में इंडेक्स करने के लिए आप गूगल सर्च कंसोल में मैन्युअली पोस्ट यूआरएल सबमिट कर सकते है जिसके बाद कुछ घंटो में आपकी ब्लॉग पोस्ट को इंडेक्स कर लिया जाता है

आपकी वेबसाइट या कंटेंट में No Index का मेटा टैग लगा होना

नए ब्लॉगर को यह समस्या सबसे ज्यादा आती है जब आपकी वेबसाइट में No Index का मेटा टैग लगा हुआ होता है तब आपकी वेबसाइट को सर्च इंजन बोट्स या क्रॉलर इंडेक्स नहीं करते है ऐसे ही जब आपके वेब पेज या कंटेंट में No Index का मेटा टैग लगा होता है

तब आपकी वेबसाइट के कंटेंट को सर्च इंजन बोट्स या क्रॉलर इंडेक्स नहीं करते है क्योकि यह एक HTML मेटा टैग होता है जिसका किसी वेब पेज के HTML कोड में होना उस वेब पेज के सर्च इंजन बोट्स द्वारा इंडेक्स न होने किये जाने को कहता है

Website Google Me Rank Kyu Nahi Hoti Hai ( 18 Reasons ) Best Guide

इसलिए No Index का उपयोग किसी वेब पेज को सर्च इंजन में इंडेक्स न करके शो न करने के लिए किया जाता है अगर आपके साथ ऐसा है तब आप वर्डप्रेस में SEO Plugin का उपयोग करने पर आपको पोस्ट एडिटर में मिल जाता है जहा से आप अपने कंटेंट को Index कर सकते है

Note – No Index Meta टैग कुछ इस तरह का होता है <meta name=”robots” content=”noindex”>

ब्लॉग पोस्ट में Competitive Keyword का उपयोग करना

यह आज ब्लॉग्गिंग में एक फैक्ट है अगर आप अपनी ब्लॉग पोस्ट में शार्ट कीवर्ड का उपयोग करते है तब क्योकि आपकी वेबसाइट नई है वह रैंक नहीं कर पायेगी अगर आपकी वेबसाइट के आर्टिकल फर्स्ट पेज तक पहुंचते है तब आपकी वेबसाइट पर थोड़ा थोड़ा ट्रैफिक आना शुरू होता है

शार्ट कीवर्ड पर अधिक कम्पटीशन होता है इसलिए आपको अपने ब्लॉग के लिए कम कम्पटीशन कीवर्ड का उपयोग करना चाहिए जिससे आपकी वेबसाइट वहाँ ज्यादा से ज्यादा ऊपर जा सके

Note – आप लॉन्ग टेल कीवर्ड का उपयोग कर सकते है इसके लिए आपको Keyword Research जरूर करनी चाहिए 

वेबसाइट की Robots.txt फाइल के माध्यम से गूगल को ब्लॉक कर देना

अगर आप एक नए ब्लॉगर है और आपको Robots.txt फाइल के बारे में जानकारी नहीं है तब यह आपके लिए बहुत दिक्कत वाली बात है क्योकि यह फाइल आपकी वेबसाइट की Indexing को बेहतर बनती है

लेकिन इसकी जानकारी न होने पर यह फाइल आपकी वेबसाइट की इंडेक्सिंग को रोक सकती है जब हमारी वेबसाइट में कुछ ऐसे वेब पेज होते है जिनको हम यूजर को नहीं दिखाना चाहते है तब हम उनको Robots.txt फाइल के माध्यम से ब्लॉक कर देते है

सभी सर्च इंजन आपकी वेबसाइट की इस फाइल के अनुसार ही आपकी वेबसाइट को क्रॉल करते है इस फाइल की गलत सेटिंग आपकी वेबसाइट के लिए सही नहीं होती है.

Website Google Me Rank Kyu Nahi Hoti Hai ( 18 Reasons ) Best Guide

वर्डप्रेस में आपको सेटिंग में जाकर Search Engine Visibility को disable तो नहीं किया है यह चेक करना है इसके अलावा आप SEO PLugin के माध्यम से अपनी Website की Robots.txt फाइल को अपडेट कर सकते है

आप अपने गूगल सर्च कंसोल पर अपनी इस फाइल को चेक करे आपकी वेबसाइट की Robots.txt फाइल का यूआरएल www.Example .com/robots.txt होता है यहाँ आप example.com को हटाकर अपना डोमेन डाल सकते है

Note – आपको अपनी Robots.txt फाइल को बहुत सावधानी के साथ एडिट करके अपडेट करना है इसके लिए आप हमारा Robots.txt आर्टिकल पढ़ सकते है 

ब्लॉग पर क्वालिटी कंटेंट पब्लिश न होना

सर्च इंजन गूगल वेबसाइट के क्वालिटी कंटेंट को सबसे ऊपर रखता है कुछ ब्लॉगर कॉपी / पेस्ट करके रैंक होना चाहते है ऐसे में सर्च इंजन आपकी Website Google Me Rank नहीं करेगा कुछ समय बाद आपकी वेबसाइट की रैंकिंग को बिल्कुल डाउन कर दिया जायेगा

अगर आप ज्यादा ऐसा करते है तब आपकी Website को सर्च इंजन गूगल से Ban भी किया जा सकता है कुछ ब्लॉगर पहले की तरह अपनी ब्लॉग पोस्ट में Keyword Stuffing करते है जिसका मतलब कीवर्ड का हद से ज्यादा उपयोग किया जाना

यह यूजर को Bad एक्सपीरियंस देता है यह आपको पेनलिटी भी दिला सकता है आप अपनी वेबसाइट में बड़ा कंटेट लिखना शुरू करे क्योकि वह ज्यादा उपयोगी कंटेंट माना जाता है

ब्लॉग पर कंटेंट अच्छा है लेकिन कम्पटीशन ज्यादा है

यह भी प्रॉब्लम हो सकती है देखिए नई ब्लॉग को एक स्ट्रैटर्जी के साथ चलना पड़ता है जब कोई ब्लॉग नया होता है तब उसकी वैल्यू बाकि वेबसाइट के जितनी नहीं होती है इसमें अगर आप ज्यादा कम्पटीशन के Blogging Niche पर काम कर रहे है

फिर आपकी Website पर अच्छे कंटेंट होने के बाद भी सही रैंकिंग नहीं मिल पाती है इसलिए आपको कम कम्पटीशन वाले कीवर्ड पर काम करने के सलाह दी जाती है

वेबसाइट पर डुप्लीकेट कंटेंट होना

बहुत सारे नए ब्लॉगर अपनी वेबसाइट पर किसी अन्य Website के डुप्लीकेट कंटेंट को पब्लिश करते है इसके अलावा भी बहुत लोग दूसरी वेबसाइट के कंटेंट में थोड़ा बहुत चेंज करके कंटेंट बनाते है

Website Google Me Rank Kyu Nahi Hoti Hai ( 18 Reasons ) Best Guide

क्योकि आज गूगल बहुत स्मार्ट हो गया है आपकी हर चाल को पकड़ लिया जाता है ऐसा करने वाली Website की रैंकिंग सर्च इंजन कम कर देता है ज्यादा करने पर आपके ब्लॉग को ब्लैकलिस्ट कर दिया जाता है

वेबसाइट पर क्रॉलिंग Error का होना

कभी कभी आपकी वेबसाइट पर क्रॉलिंग Error आ जाते है अगर आपकी वेबसाइट पर इस तरह के Error आए है तब आपको इनको Solve कर लेना चाहिए क्योकि जब आपकी वेबसाइट की सही तरह से क्रॉलिंग नहीं होगी उसकी रैंकिंग परफॉरमेंस भी ख़राब होती है

वेबसाइट के Silo Structure को सही करे

ब्लॉग के Silo Structure का प्रभाव रैंकिंग पर भी पड़ता है जब आपकी Website का साइलो स्ट्रक्चर सही होता हैं तब आपकी वेबसाइट का लिंक जूस हर वेबसाइट के ऊपर पास होता है जिससे आपकी Website के हर वेब पेज को रैंकिंग बूस्ट मिलता है

ब्लॉग में इंटरनल लिंकिंग सही प्रकार से न होना

आप सब जानते है कि इंटरनल लिंकिंग हर वेबसाइट या ब्लॉग के लिए कितनी महत्वपूर्ण होती है आपको अपनी Website में इंटरनल लिंकिंग सही करनी हर एक ब्लॉग पोस्ट के विषय से सम्बंधित अपने ब्लॉग की ब्लॉग पोस्ट को इंटरनल लिंकिंग के माध्यम से जरूर जोड़े

Website Google Me Rank Kyu Nahi Hoti Hai ( 18 Reasons ) Best Guide

ऐसा करने से आपकी Website या ब्लॉग की रैंकिंग बढ़ती है क्योकि आपकी Website का लिंक जूस अच्छे से पास होता रहता है साथ ही किसी एक आर्टिकल के रैंक होने पर विजिटर दूसरी ब्लॉग पोस्ट को पढ़कर उनकी क्वालिटी और रैंकिंग को बढ़ाते है

ब्लॉग पर Quality बकलिंक का न होना

वेबसाइट पर क्वालिटी बैकलिंक आपकी Website की रैंकिंग, अथॉरिटी, वैल्यू को बढ़ाते है बैकलिंक को आज सभी ब्लॉगर अच्छा रैंकिंग फैक्टर मानते है यह आपकी ब्लॉग पोस्ट को ऊपर लाने में अपनी बड़ी भूमिका निभाते है जिसके बाद आपकी Website का ट्रैफिक बढ़ता है

इसके साथ आपकी वेबसाइट को डोमेन अथॉरिटी और पेज अथॉरिटी भी बढ़ती है अधिक स्पैम स्कोर वाली वेबसाइट से बैकलिंक बनना आपकी Website Google Me Rank डाउन कर सकता है

High Quality Backlinks बनाने की कुछ महत्वपूर्ण टिप्स- 

  • आपका कंटेंट अच्छा होने पर लोग खुद आपको बैकलिंक्स देते है
  • ब्लॉग को Directories वेबसाइट पर सबमिट करे
  • वेबसाइट को सोशल बुकमार्किंग वेबसाइट पर Add करे
  • ब्लॉग पोस्ट को डॉक्यूमेंट सबमिट वेबसाइट पर सबमिट करे
  • हाई अथॉरिटी वेबसाइट के ब्रोकन लिंक ढूंढकर अपना लिंक देने की रिक्वेस्ट करे
  • गेस्ट पोस्ट करके हाई क्वालिटी बैकलिंक प्राप्त करे
  • Fourm सबमिशन वेबसाइट के माध्यम से बैकलिंक बनाए

वेबसाइट पर बैकलिंक का Loss हो जाना

जब आप अपनी Website के लिए अलग अलग है हाई अथॉरिटी वेबसाइट से बैकलिंक बनाते है तब कुछ समय बाद वह बैकलिंक डिलीट हो जाता है जिसके कारण आपकी Website का वह बैकलिंक loss हो जाता है जो वेबसाइट की रैंकिंग डाउन करता है

वर्डप्रेस ब्लॉग की Visibility Settings जाँच करें

जब आप अपने ब्लॉग्गिंग करियर को WordPress VS Blogger में से वर्डप्रेस पर शुरू करते है तब यह आपको बहुत सारी सेटिंग देता है जिसके माध्यम से आप अपनी Website को सर्च इंजन से Hide भी कर सकते है

यह ऑप्शन नई वेबसाइट के लिए महत्वपूर्ण साबित होता है लेकिन अगर आपने इसको चेक करा है तब यह आपकी Website को इंडेक्स है होने देता है इसके लिए आप अपने वर्डप्रेस डैशबोर्ड में Setting के ऑप्शन पर जाकर Reading page के ऑप्शन पर जा सकते है

वेबसाइट का मोबाइल फ्रेंडली न होना

आप सब जानते है आजकल इंटरनेट का सबसे ज्यादा उपयोग मोबाइल यूजर करते है इसलिए सर्च इंजन में Website Google Me Rank करने के लिए उसका मोबाइल फ्रेंडली होना बहुत जरुरी होता है

अगर आपकी वेबसाइट मोबाइल फ्रेंडली नहीं है तब आपकी वेबसाइट का नेविगेशन और कंटेंट आपकी Website के मोबाइल यूजर को सही तरह से दिखाई नहीं देता है जिसके कारण आपकी वेबसाइट पर क्वालिटी कंटेंट होने के बाद भी वह बेकार है

Website Google Me Rank Kyu Nahi Hoti Hai ( 18 Reasons ) Best Guide

इसलिए गूगल में वेबसाइट के मोबाइल फ्रेंडली होने के लिए mobile-friendly testing tool भी डेवलप्ड किया है वर्डप्रेस वेबसाइट में आप अपने थीम को बदलकर अपनी वेबसाइट का मोबाइल फ्रेंडली टेस्ट कर सकते है इसके साथ चेक करे की आपकी वेबसाइट का थीम Responsive है

वेबसाइट के कंटेंट को सही प्रकार से ऑप्टिमाइज़ न करना

आपको अपनी वेबसाइट के कंटेंट को ऑप्टिमाइज़ करना जरूर आना चाहिए यह वेबसाइट के SEO का पार्ट होता है जिसको ध्यान में न रखकर आप अपनी Website Google Me Rank नहीं करा सकते है कंटेंट ऑप्टिमाइज़ के लिए आपको Website के ON Page SEO पर ध्यान देना होगा

ब्लॉग का ON Page SEO करने की कुछ महत्वपूर्ण टिप्स –

ब्लॉग की लोडिंग स्पीड ख़राब होना

गूगल ब्लॉग की लोडिंग स्पीड को रैंकिंग फैक्टर घोषित कर चूका है अगर आपकी वेबसाइट की लोडिंग स्पीड ख़राब है तब आपकी Website Google Me Rank सकती है क्योकि ऐसी Website को  बहुत ज्यादा समय लगता है

इतने में यूजर उस इनफार्मेशन को बाकि वेबसाइट पर जाकर प्राप्त कर लेते है इसलिए वेबसाइट की लोडिंग स्पीड को फ़ास्ट करे इसके लिए आप Gtmetrix ऑनलाइन टूल का उपयोग करके अपनी वेबसाइट की लोडिंग स्पीड का पता लगा सकते है

सर्च इंजन गूगल के अल्गोरिथम बदलना

जब सर्च इंजन गूगल का अल्गोरिथम बदलता है इससे कुछ वेबसाइट की रैंकिंग और ट्रैफिक डाउन होता है क्योकि गूगल अपने यूजर को रिलेवेंट रिजल्ट देने के कारण अपने अल्गोरिथम को अपडेट करता रहता है

ब्लॉग में टेक्निकल इशू का होना

जब आप इंटरनेट पर अपनी Website को लाइव करते है तब आपको बहुत सारी टेक्निकल चीजों का सामना करना पड़ता है इन टेक्निकल इशू के कारण वेबसाइट सर्च इंजन में बेहतर प्रदर्शन ( Website Google Me Rank  ) नहीं कर पाती है

जैसे – SSL सर्टिफिकेट का न होना, Cracked थीम और प्लगइन का उपयोग करना, ब्रोकन लिंक का होना, वेबसाइट का स्पैम स्कोर बढ़ना, कैनोनिकल टैग का होना आदि

ब्लॉग को गूगल द्वारा Penalized किया जाना

बहुत बार ऐसा होता है कि आप किसी तरह का शार्ट रास्ता ब्लॉग्गिंग को सफल बनाने के लिए लगाते है ऐसे में आपकी वेबसाइट पर इसका बुरा प्रभाव पड़ता है क्योकि आप लोग गूगल की गाइडलाइन्स को सही प्रकार से समझ नहीं पाते है

आपकी वेबसाइट के Black Hat SEO में आने से गूगल Website को सर्च इंजन से रिमूव कर देता है वेबसाइट का Penalized होना कई बातो पर निर्भर करता है जैसे – ज्यादा कीवर्ड Stuffing करना, बैकलिंक खरीदना आदि

गूगल के द्वारा वेबसाइट को हटाने की टर्म्स क्या है

जब आप गूगल की गाइडलाइन्स का उल्लंघन कर देते है तब गूगल को यह अधिकार रहता है कि वह आपकी Website को अपने सर्च इंजन से रिमूव, No Index, temporarily या permanently remove भी कर सकता है इसकी कुछ टर्म्स है जैसे –

  • De-indexed– इस स्थिति में सर्च इंजन गूगल आपकी Website या ब्लॉग के डोमेन को Search result से पूरी तरह से Remove करता है।
  • Penalized– ऐसी स्थिति में सर्च इंजन गूगल आपकी Website या ब्लॉग के डोमेन या वेब पेज को सर्च रिजल्ट में उपस्थित रखता है लेकिन डायरेक्ट सर्च करने पर नहीं दिखता है
  • Sandboxed– यह ज्यादातर नई Website के लिए होता है इसमें गूगल नई वेबसाइट को high-competing keywords पर रैंक करने से रोकता है डिटेल में इसके लिए पॉपुलर कीवर्ड रिसर्च टूल Ahrefs ने अपना लेख लिखा हुआ है Google Sandbox: Does Google Really Hate New Websites?

Note – अगर आपको आपकी ईमेल पर Google’s quality guidelines उल्लंघन करने का notification मिलती है तब आप उसको ठीक करके दुबारा गूगल को भेज सकते है जिसके बाद सभी चेकिंग करके इसके वापस आने के चांस होते है 

आपने क्या सीखा?

आज मैंने आपको Website Google Me Rank Kyu Nahi Hoti Hai, वेबसाइट रैंक क्यों नहीं हो रही है, Website Rank Na Hone ke Karan, आदि के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी है

मुझे उमीद है कि आप सभी को “Website Google Me Rank Kyu Nahi Hoti Hai” के बारे में सब कुछ समझ आ गया होगा फिर भी अगर आपका कुछ सवाल है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में मुझसे पूछ सकते है साथ ही आर्टिकल को शेयर जरुर करे

Credit By = itznitinsoni


Spread the love